Breaking :
||सीएम हेमंत सोरेन की नहीं होगी गिरफ्तारी, ईडी के पास कोई पुख्ता सबूत नहीं||झारखंड से कोरोना की विदाई, सभी जिले कोरोना मुक्त घोषित||झारखंड: प्रमाण पत्र सत्यापन नहीं कराने वाले सहायक अध्यापक होंगे कार्यमुक्त||झारखंड में Suo-Moto Online Mutation की ऐतिहासिक शुरुआत, अब जमीन रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन के लिए नहीं देना पड़ेगा आवेदन||झारखंड प्रशासनिक सेवा के 14 अधिकारियों को मिली अपर सचिव के पद पर पदोन्नति||लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या||लातेहार: आदिवासी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में आदिवासी की मौत के बाद नहीं मिली एंबुलेंस, ठेले पर ले गया शव||पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार||चतरा में भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर ने किया पुलिस के सामने सरेंडर||लातेहार: सात दिन पूर्व दफनाये गये शव को महुआडांड़ पुलिस ने कब्र से निकलवाया, हत्या की आशंका

ACB की टीम ने दारोगा को रिश्वत लेते रंगेहाथ किया गिरफ्तार

धनबाद : केस डायरी लिखने के एवज में घूस की मांग कर रहे सरायढेला थाना के दारोगा राजेन्द्र उरांव को सोमवार सुबह एंटी करप्शन ब्यूरो (एसीबी) की टीम ने छह हजार रुपये घूस लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है। पीड़ित प्रदीप कुमार पांडे की शिकायत पर एसीबी की टीम ने जाल बिछाकर आरोपित दारोगा को गिरफ्तार किया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

धनबाद एसीबी के डीएसपी नितिन खंडेलवाल ने बताया कि वर्ष 2017 के एक मामले में केस डायरी लिखने के लिए आरोपित दरोगा राजेन्द्र उरांव बरवाअड्डा थाना क्षेत्र के कल्याणपुर निवासी प्रदीप कुमार पांडे से दस हजार रुपये बतौर रिश्वत की मांग कर रहा था। पीड़ित ने इसकी शिकायत धनबाद एसीबी से की।

डीएसपी ने बताया कि मामले के सत्यापन के बाद एसीबी टीम द्वारा जाल बिछाया गया और आरोपित दारोगा को सरायढेला स्थित बॉम्बे स्वीट्स के पास बुलाया गया। जहां जैसे ही आरोपित दारोगा ने पीड़ित से घूस की रकम ली, वहां पहले से मौजूद एसीबी की टीम ने दारोगा को गिरफ्तार कर लिया। उन्होंने बताया कि गिरफ्तार दारोगा से पूछताछ की जा रही है।