Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलातेहार

लातेहार: विद्यालय से उर्दू शब्द हटाए जाने पर मुस्लिम समुदाय में आक्रोश, किया प्रदर्शन

लातेहार : सदर प्रखंड के सासंग पंचायत के कोढास गांव में ग्रामीणों ने राजकीय उत्क्रमित उर्दू मध्य विद्यालय को राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय किये जाने पर विरोध प्रदर्शन किया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

ग्रामीणों ने पूर्व उप मुखिया अवैस मियाँ के नेतृत्व में ग्राम सभा का आयोजन किया। सभा में ग्रामीणों ने कहा कि आजादी के पूर्व से सासंग पंचायत में राजकीय उत्क्रमित उर्दू मध्य विद्यालय स्थापित है। जिससे उर्दू शब्द हटाकर राजकीय उत्क्रमित मध्य विद्यालय कर दिया गया। जबकि सासंग और कोढास दोनों गांव मुस्लिम बहुल है फिर भी इस विद्यालय को उर्दू विद्यालय से हिंदी विद्यालय कर दिया गया। जिसका हम सभी मुस्लिम समुदाय के लोग विरोध करते हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

ग्राम सभा में ग्रामीणों ने पंचायत समिति सदस्य आलम को बुलाकर इस समस्या से अवगत कराया। मौके पर पंचायत समिति सदस्य ने कहा कि आपकी बातों से जिले के उपायक्त, शिक्षा विभाग व स्थानीय विधायक बैद्यनाथ राम को अवगत कराया जाएगा। साथ ही इस विद्यालय की जांच कराकर आपकी मांगों को पूरा कराने का प्रयास किया जाएगा। मौके पर मुस्लिम समुदाय के सैकड़ों लोग उपस्थित थे।