Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू में पेट्रोल कांड: विवाहिता को जिंदा जलाने की कोशिश, हालत गंभीर

पलामू : जिले के हुसैनाबाद अनुमंडल क्षेत्र के विश्वासिया गांव में एक विवाहिता को पेट्रोल छिड़क कर जिंदा जलाने का प्रयास किया गया। विवाहिता पूरी तरह से झुलस गयी है। गंभीर हालत में पीड़िता को हुसैनाबाद अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। जहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने उसे बेहतर इलाज के लिए सदर अस्पताल मेदिनीनगर रेफर कर दिया। इस मामले में तीन लोगों के विरुद्ध मामला दर्ज किया गया है।

पीड़िता की मां ने गांव के ही तीन लोगों पर लगाया आरोप

इस मामले को लेकर विश्वासिया गांव निवासी कुंती कुंवर ने हुसैनाबाद थाने में लिखित शिकायत कर गांव के प्रवेश यादव, पंचम यादव और समुद्री देवी के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी है। शिकायत में कहा कि मेरी बेटी सुबह घर से शौच के लिए निकली थी। इसी बीच उक्त तीनों लोगों ने मेरी बेटी पर पेट्रोल छिड़क कर आग लगा दी। आग लगते ही बेटी रोने लगी। आवाज सुनकर बाहर निकले तो देखा कि जल रही है। यह देख हमने आग बुझाई, तब तक वह बुरी तरह जल चुकी थी।

पहले भी दिया था जान से मारने की धमकी

बुरी तरह से झुलसी पीड़िता को आनन-फानन में हुसैनाबाद अनुमंडल अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां चिकित्सकों ने प्राथमिक उपचार के बाद उसकी गंभीर स्थिति को देखते हुए बेहतर इलाज के लिए मेदिनीनगर के सदर अस्पताल रेफर कर दिया। पीड़िता की मां ने आरोप लगाया कि उसने पूर्व में भी उपरोक्त तीन लोगों ने जान से मारने की धमकी दी थी।

पुलिस जांच में जुटी

वहीं, इस संबंध में हुसैनाबाद पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी जगन्नाथ धान ने बताया कि लिखित शिकायत के आधार पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है। जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें