Breaking :
||दुमका में फिर पेट्रोल कांड, प्रेमिका और उसकी मां पर पेट्रोल डाल कर प्रेमी ने लगायी आग||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, शव बरामद||UP राज्यसभा चुनाव में BJP के आठों उम्मीदवारों ने की जीत हासिल||माओवादी टॉप कमांडर रविंद्र गंझू के दस्ते का सक्रिय सदस्य ढेचुआ गिरफ्तार||पलामू: तूफान और बारिश ने मचायी तबाही, दो छात्रों की मौत, कहीं गिरे पेड़ तो कहीं ब्लैकआउट||झारखंड के 4 IAS अधिकारियों का तबादला, JPSC के सचिव का भी हुआ ट्रांसफर||झारखंड में 23 IPS अफसरों का तबादला, अंजनी अंजन बने रांची के ग्रामीण एसपी||पलामू: ग्रामीण डॉक्टर का अपहरण, मरीज को दिखाने के बहाने क्लिनिक में आये थे अपराधी||Jharkhand Budget: बाबूलाल मरांडी ने कहा- बजट में जन कल्याणकारी योजनाओं का समावेश नहीं||विधानसभा में 1.28 लाख करोड़ का बजट पेश, 2 लाख तक के कृषि ऋण होंगे माफ़, जानिये सरकार की अन्य घोषणायें
Wednesday, February 28, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडसंथाल परगना

झारखंड: असामाजिक तत्वों ने बजरंगबली की मूर्ति किया क्षतिग्रस्त, शहर में बवाल, एक धार्मिक स्थल आग के हवाले, इंटरनेट सेवा ठप

तीन घंटे तक एनएच-80 रखा जाम, शहर में जमकर पथराव

साहिबगंज : नगर थाना क्षेत्र के पटेल चौक के पास स्थित बजरंगबली की प्रतिमा को सोमवार को कुछ असामाजिक तत्वों ने क्षतिग्रस्त कर दिया। इसके विरोध में स्थानीय लोगों ने एनएच-80 को तीन घंटे तक जाम कर दिया। शहर में जमकर पथराव किया। एक धार्मिक स्थल को भी आग के हवाले कर दिया। तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए भारी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात कर दिया गया है।

उपायुक्त के निर्देश पर दिन में करीब सवा एक बजे से लेकर मंगलवार सुबह नौ बजे तक इंटरनेट सेवा बंद कर दी गयी है। तनाव को देखते हुए डीसी ने एहतियातन यह कदम उठाया है। उन्होंने जियो और एयरटेल के अलावा बीएसएनएल के प्रबंधकों से बात की और उनसे आग्रह किया कि मंगलवार सुबह 9 बजे तक इंटरनेट सेवा बंद कर दें, ताकि किसी भी अफवाह को फैलने से रोका जा सके।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

घटना सूचना मिलते ही विश्व हिंदू परिषद के सदस्यों ने विरोध-प्रदर्शन शुरू कर दिया। दोषियों की गिरफ्तारी की मांग करने लगे। देखते ही देखते पूरे इलाके में तनाव व्याप्त हो गया। लोगों ने पथराव शुरू कर दिया।

मामले की गंभीरता को देखते हुए नगर थाना प्रभारी धर्मपाल कुमार घटनास्थल पर पहुंचे और लोगों को शांत कराने की कोशिश की, लेकिन लोग नहीं माने। हालात ज्यादा बिगड़ते देख जिला और पुलिस-प्रशासन को सड़क पर उतरना पड़ा। साहिबगंज के उपायुक्त रामनिवास यादव और एसपी अनुरंजन किस्पोट्टा ने फ्लैग मार्च किया। उन्होंने लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की।

एसपी ने स्थिति को संभालने के लिए 64 जमादार, जैप-9 की 60 महिला जवानों के साथ-साथ जैप-1 एसआईआरबी के 200 जवानों को भी तैनात कर दिया। जिला मुख्यालय के सभी सरकारी पदाधिकारियों को सुरक्षा व्यवस्था कायम करने के लिए सड़क पर उतार दिया गया। एसी, डीईओ, डीएसओ, एसडीओ, सीओ, बीडीओ समेत 9 दंडाधिकारी तैनात किये गये हैं। बरहड़वा के एसडीपीओ प्रदीप उरांव के नेतृत्व में 4 इंस्पेक्टर और 13 थाना के प्रभारी पूरे इलाके में गश्ती कर रहे हैं। पूरा साहिबगंज शहर बंद हो गया है। दुकानों से लेकर स्कूल-कॉलेज तक बंद हैं। हालांकि, मैट्रिक की परीक्षा जारी है।

हालांकि हंगामे के बीच प्रशासन ने स्थानीय मूर्तिकार राजू पाल की मदद से क्षतिग्रस्त भगवान बजरंगबली की प्रतिमा को ठीक करवा लिया। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी इलाके में शांति बहाली करने में जुटे हुए हैं। उपायुक्त ने जिले के लोगों से अपील की है कि वे शांति एवं सौहार्द को बनाये रखें।

Jharkhand Sahibganj Violence News