Breaking :
||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 28 फरवरी को आयेंगी रांची, सुरक्षा के रहेंगे कड़े इंतजाम||झारखंड: अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर युवती से किया दुष्कर्म, धर्म परिवर्तन कराकर जबरन करा दी शादी||लातेहार: बालूमाथ में लोडेड देशी पिस्टल के साथ दो युवक गिरफ्तार, कार जब्त||पीएम मोदी ने समुद्र में लगायी डुबकी, जलमग्न कृष्ण की नगरी द्वारका को देखा||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड की नाबालिग लड़की के साथ अमानवीय व्यवहार करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री ने दिये सख्त कार्रवाई के आदेश

झारखण्ड ह्यूमन ट्रैफिकिंग

झारखंड एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट की टीम गुरुग्राम के लिए नौ फरवरी को होगी रवाना

रांची : मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने सिमडेगा की 14 वर्षीय लड़की के साथ किए गए अमानवीय व्यवहार को गंभीरता से लिया है। मुख्यमंत्री ने उपायुक्त सिमडेगा और झारखंड पुलिस को मामले में एफआईआर दर्ज कर सख्त कार्रवाई करने का आदेश दिया है। साथ ही उन्होंने बच्ची को चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने, बच्ची की सकुशल राज्य वापसी, उसे शिक्षा तथा सरकारी योजनाओं से जोड़ते हुए सूचित करने का भी आदेश दिया है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग और हरियाणा सरकार से मामले में संज्ञान लेने का किया आग्रह

मुख्यमंत्री ने राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग और हरियाणा सरकार से आग्रह किया है कि इस गंभीर मामले को संज्ञान में लें और लड़की को उसके परिवार में वापस लाने के लिए आवश्यक सहायता प्रदान करें। मुख्यमंत्री के आदेश के बाद उपायुक्त सिमडेगा ने मुख्यमंत्री को अवगत कराया कि मामले को संज्ञान में लिया गया है एवं एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट की टीम बच्ची को रेस्क्यू करने के लिए कल प्रस्थान करेगी। बच्ची को चिकित्सा, शिक्षा, पुनर्वास एवं योजनाओं का लाभ त्वरित रूप से उपलब्ध कराया जाएगा।

ये है मामला

सिमडेगा निवासी 14 वर्षीय बच्ची को घर कार्य करने के लिए गुरुग्राम ले जाया गया था, जहां उसके साथ पिछले दिनों अमानवीय यातनाएं दी गयी। बच्ची की लाठी डंडे और गर्म चिमटे से पिटायी की गयी। इसके बाद मुख्यमंत्री ने सिमडेगा उपायुक्त और झारखंड पुलिस को कार्रवाई का आदेश दिया है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

झारखण्ड ह्यूमन ट्रैफिकिंग