Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Monday, April 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झारखंड में मैट्रिक और इंटरमीडिएट की परीक्षाओं की तिथि घोषित, जानिये…

रांची : झारखंड में 14 मार्च से मैट्रिक-इंटरमीडिएट की परीक्षाएं होंगी। झारखंड एकेडमिक काउंसिल (JAC) ने इसे लेकर नोटिफिकेशन जारी कर दिया है।

परीक्षा को देखते हुए रांची जिले के केंद्रों पर तैयारी शुरू कर दी गयी है। रांची जिले में मैट्रिक परीक्षा के लिए 105 केंद्र बनाए गए हैं। वहीं, इंटरमीडिएट की परीक्षा 57 केंद्रों पर होगी। मैट्रिक की परीक्षा में 36 हजार 183 और इंटर में 34 हजार 926 परीक्षार्थी शामिल होंगे। परीक्षा के दौरान कोविड नियमों का पालन किया जायेगा।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

जेएसी के अध्यक्ष डॉ. अनिल कुमार महतो ने बताया कि परीक्षा के दौरान केंद्रों पर नकल करने वालों और कानून व्यवस्था को भंग करने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी। इसको लेकर केंद्रों का निरीक्षण किया गया है। शिक्षाविदों से भी राय ली जा रही है। परीक्षा शांतिपूर्ण तरीके से करायी जायेगी। मैट्रिक और इंटर की परीक्षा समय पर होगी। इसके लिए हमारी टीम तैयार है।

महतो ने बताया कि कोरोना खत्म होने के बाद इस साल बोर्ड की परीक्षाएं पूरे सिलेबस पर आधारित होंगी। पिछले साल सिलेबस में कटौती की गयी थी लेकिन इस साल ऐसा नहीं होगा। इस वर्ष की बोर्ड परीक्षाओं को लेकर झारखंड एकेडमिक काउंसिल द्वारा बनाये गये पैटर्न के अनुसार पूरे सिलेबस से ऑब्जेक्टिव और सब्जेक्टिव प्रश्न पूछे जायेंगे। 50 प्रतिशत प्रश्न वस्तुनिष्ठ होंगे, जिनका उत्तर ओएमआर शीट पर देना होगा। पिछले साल की बोर्ड परीक्षाएं 75 फीसदी सिलेबस पर ही ली गयी थीं।

झारखंड मैट्रिक-इंटर परीक्षा