Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Friday, June 14, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: सिविल सर्जन की बेटी की मौत, अगले महीने होने वाली थी शादी, गम में बदली शादी की खुशियां

पलामू : पलामू सिविल सर्जन डॉ. अशोक कुमार की इकलौती पुत्री अमृता सुरभि (32) की असामयिक मौत हो गयी। अगले माह 22 जून को उसकी शादी होने वाली थी। दोपहर को कोयल नदी के किनारे राजा हरिश्चंद्र घाट पर शव का अंतिम संस्कार किया गया। अंतिम संस्कार में कई डॉक्टर, चिकित्साकर्मी और गणमान्य लोग शामिल हुए।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

बताया जाता है कि सिविल सर्जन डॉ. अशोक की पुत्री अमृता सुरभि को सोमवार की सुबह अचानक पेट में दर्द हुआ और फिर वह शौच करने लगी। घर पर कुछ दवाई दी, लेकिन कोई सुधार नहीं हुआ तो आनन-फानन में उसे इलाज के लिए एमआरएमसीएच ले जाया गया। यहां करीब 10 मिनट बाद डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। परिजन तुरंत शव को जेलहाता स्थित आवास पर ले आये।

सुबह करीब 11 बजे शवयात्रा निकली और कोयल नदी के किनारे पहाड़ी पर स्थित राजा हरिश्चंद्र घाट ले जाया गया। अंतिम संस्कार में गढ़वा के सिविल सर्जन डॉ. अनिल कुमार सिंह, डॉ. अंशुमन सागर, डॉ. हरिओम, डॉ. सतीश कुमार, डॉ. आरके रंजन के अलावा धनंजय त्रिपाठी, बृजेश शुक्ला, डीपीएम दीपक कुमार समेत सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कई चिकित्सा अधिकारी शामिल हुए।

सिविल सर्जन की बेटी अमृता की गत 5 मई को सगाई हुई थी। एमबीबीएस की छात्रा थी। अमृता एक भाई और एक बहन में छोटी थी। भाई ऋषभ कुमार रिम्स में कार्यरत हैं। घटना के बाद परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। शादी की खुशियां गम में बदल गयी।