Breaking :
||झारखंड निकाय चुनाव में ओबीसी को आरक्षण नहीं देने के मामले में सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस||रांची: ट्रैक्टर व बाराती गाड़ी की भीषण टक्कर में दो की मौत, दो गंभीर रूप से घायल||झारखंड: हाईकोर्ट में पारा शिक्षकों के समायोजन मामले में हुई सुनवाई||हजारीबाग में गैंगेस्टर अमन साहू गिरोह के दो शूटर हथियार के साथ गिरफ्तार, एक पलामू का||पलामू: कुख्यात गैंगेस्टर अमन साहू के गुर्गों ने JMM नेता को दी जान से मारने की धमकी, दो गिरफ्तार, एक लातेहार का||लातेहार: JJMP उग्रवादी की पत्नी से प्रेम संबंध के आरोप में मारे गये ओमप्रकाश यादव के हत्या का आरोपी गिरफ्तार||रांची में स्कूल के गार्ड ने की 11 साल की बच्ची के साथ छेड़छाड़, गिरफ्तार||लातेहार: बालूमाथ में अवैध कोयला लदा हाइवा जब्त, दो गिरफ्तार, जांच जारी||झारखंड के शराब दुकानदारों को मुख्यमंत्री की चेतावनी, कार्यशैली में लायें सुधार, नहीं तो होगी कार्रवाई||लातेहार: चंदवा में नाबालिग का यौन शोषण करने का आरोपी गिरफ्तार, जेल

पलामू: जंगली सुअर के शिकार के लिए लगाए गए जाल में फंसकर हिरण की मौत

palamu update :पलामू : जिले के नीलांबर पीतांबरपुर-लेस्लीगंज थाना क्षेत्र के डबरा आहर से घायल अवस्था में मिले एक हिरण की इलाज के लिए ले जाते समय मौत हो गयी।

बताया जाता है कि काफी देर तक हिरण के सींग में रस्सी फंसी रहने और जबड़े में डंडों से वार होने से हिरण की हालत गंभीर हो गई थी। उसे इलाज के लिए लेस्लीगंज के पशु चिकित्सक के पास ले जाया गया, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

मामले में कार्रवाई करते हुए वन विभाग ने हिरण को फंसाने वाले शिकारी ग्रामीण लालदेव यादव को गिरफ्तार कर शुक्रवार शाम को जेल भेज दिया।

कुंदरी के रेंजर संदीप कुमार चौधरी ने बताया कि हिरण को आहर से छुड़ाकर इलाज के लिए लेस्लीगंज पशु चिकित्सक के पास ले जाया गया, लेकिन अस्पताल पहुंचने से पहले ही उसकी मौत हो गई।

आगे बताया कि मामले में कार्रवाई करते हुए डबरा निवासी लालदेव यादव को हिरण का शिकार करने के आरोप में गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। आज हिरण के शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा। उसके बाद उसे नियमानुसार दफनाया जाएगा।

वन विभाग की जांच में यह बात सामने आई है कि डबरा निवासी लालदेव यादव नाम के व्यक्ति ने जंगली सूअर का शिकार करने के लिए गांव के आहर में फंदा लगाया था। इसमें सुअर की जगह जंगल से भटकता हुआ हिरण फंस गया।

आरोपी ने अपने स्वीकारोक्ति बयान में कहा है कि सुअर का शिकार करने के लिए उसने आहर के किनारे तार का जाल लगाया था, लेकिन हिरण फंस गया। हिरण के सींग में रस्सी और तार फंसने के बाद उसने उसके जबड़े पर डंडों से प्रहार किया। जब वह काबू में आया तो उसे आहर के पानी में फेंक दिया गया।

बता दें कि डबरा गांव में ध्रुव सिंह नाम के शख्स ने दो साथियों के साथ मिलकर पानी से भरे आहर में तड़पते हिरण को देखकर डबरा पिकेट प्रभारी लेस्लीगंज थाना और वन विभाग कुंदरी को सूचना दी थी। साथ ही मृग को बंधी रस्सी से छुड़ाकर पानी से बाहर निकाला था।

palamu update

https://thenewssense.in/category/latehar

https://www.facebook.com/newssenselatehar


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *