Breaking :
||चतरा: अत्याधुनिक हथियार के साथ TSPC के तीन उग्रवादी गिरफ्तार||लातेहार में बड़ा रेल हादसा, चार यात्रियों की मौत और कई के घायल होने की सूचना||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस
Saturday, June 15, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

ED ने अब झारखंड सरकार के दो और मंत्रियों को पूछताछ के लिए बुलाया, सियासी गलियारों में हलचल

रांची : मंत्री आलमगीर आलम के बाद अब ईडी ने झारखंड सरकार के दो और मंत्रियों को समन जारी किया है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि अब ईडी ने झारखंड सरकार के दो मंत्रियों बादल पत्रलेख और हफीजुल हसन को समन जारी कर 25 मई को पूछताछ के लिए बुलाया है। इससे पहले ईडी ने आईएएस मनीष रंजन को तलब किया है। ईडी के इस समन से झारखंड की राजनीति गलियारों में हलचल मच गयी है।

ईडी ने झारखंड के आईएएस मनीष रंजन को भी तलब किया है। मनीष रंजन ग्रामीण विकास विभाग के पूर्व सचिव हैं। प्रवर्तन निदेशालय ने उन्हें 24 मई को पेश होने का निर्देश दिया है। माना जा रहा है कि टेंडर कमीशन मामले में मनीष रंजन को तलब किया गया है। इस मामले में मंत्री आलमगीर आलम फिलहाल ईडी की रिमांड पर हैं, जबकि निजी सचिव संजीव लाल और उनके सहायक जहांगीर आलम पहले ही जेल जा चुके हैं।

ED Jharkhand Ministers Called