Breaking :
||दुमका में फिर पेट्रोल कांड, प्रेमिका और उसकी मां पर पेट्रोल डाल कर प्रेमी ने लगायी आग||छत्तीसगढ़ में पुलिस के साथ मुठभेड़ में चार नक्सली ढेर, शव बरामद||UP राज्यसभा चुनाव में BJP के आठों उम्मीदवारों ने की जीत हासिल||माओवादी टॉप कमांडर रविंद्र गंझू के दस्ते का सक्रिय सदस्य ढेचुआ गिरफ्तार||पलामू: तूफान और बारिश ने मचायी तबाही, दो छात्रों की मौत, कहीं गिरे पेड़ तो कहीं ब्लैकआउट||झारखंड के 4 IAS अधिकारियों का तबादला, JPSC के सचिव का भी हुआ ट्रांसफर||झारखंड में 23 IPS अफसरों का तबादला, अंजनी अंजन बने रांची के ग्रामीण एसपी||पलामू: ग्रामीण डॉक्टर का अपहरण, मरीज को दिखाने के बहाने क्लिनिक में आये थे अपराधी||Jharkhand Budget: बाबूलाल मरांडी ने कहा- बजट में जन कल्याणकारी योजनाओं का समावेश नहीं||विधानसभा में 1.28 लाख करोड़ का बजट पेश, 2 लाख तक के कृषि ऋण होंगे माफ़, जानिये सरकार की अन्य घोषणायें
Wednesday, February 28, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरकोल्हान प्रमंडलझारखंड

चाईबासा में नक्सलियों के आठ कैंप ध्वस्त, आपत्तिजनक सामान बरामद

पश्चिमी सिंहभूम : गोइलकेरा-मनोहरपुर सीमा क्षेत्र के गम्हरिया पंचायत के अंबिया गांव के जंगल में रविवार को पश्चिम सिंहभूम जिले की पुलिस और सुरक्षाबलों ने नक्सलियों के खिलाफ तलाशी अभियान चलाया। हालांकि नक्सलियों को पुलिस के आने की भनक लग गयी।

सुरक्षाबलों ने इस दौरान पहाड़ी पर बने नक्सलियों के आठ कैंपों को ध्वस्त करते हुए 21 चूल्हे को नष्ट किया। इसके साथ ही 28 टेंट, डेटोनेटर, सीरिंज और बिजली के तार भी बरामद किये गये हैं। पुलिस के मुताबिक, नक्सलियों का टॉप लीडर और एक करोड़ के इनामी नक्सली मिसिर बेसरा की टीम वहां मौजूद थी। इस दस्ते को पकड़ने के लिए पुलिस और सुरक्षाबलों का सर्च ऑपरेशन जारी है।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी के अनुसार जंगल में छिपे भाकपा माओवादी नेता मिसिर बेसरा समेत उसके दस्ते को पकड़ने की योजना के तहत जिला बल, झारखंड जगुआर और सीआरपीएफ की तीन बटालियन के सुरक्षा बलों ने रविवार को कार्रवाई की। बताया गया कि इनामी नक्सली मिसिर बेसरा की इस टीम में अमित मुंडा, अजय महतो, अनमोल, मोछू, चमन, कांडे, सागेन अंगरिया व अश्विन समेत करीब 30-35 नक्सली मौजूद थे। जैसे ही पुलिस और सुरक्षाबलों को आने का पता चला, यह दस्ता वहां से भाग खड़ा हुआ।

अंबिया गांव के जंगल में मिसिर बेसरा के दस्ते द्वारा मोर्चा गठित करने की सूचना पुलिस को मिली थी, जिसके बाद वहां तलाशी अभियान शुरू किया गया। सुरक्षाबलों ने पाया कि नक्सली दस्ते के लोगों ने पेड़ की सूखी टहनियों और पत्तियों के सहारे मोर्चा बना रखा है। पिछले कई दिनों से वे इसी मोर्चे पर सुरक्षाबलों पर घात लगाने के लिए जमे हुए थे। यहां भोजन आदि की व्यवस्था थी। आशंका जतायी जा रही है कि इस दस्ते में कुछ महिला नक्सली भी शामिल थीं।

नक्सलियों के खिलाफ लगातार चलाया जा रहा है अभियान : एसपी

इस संबंध में एसपी आशुतोष शेखर ने बताया कि जिला पुलिस व सुरक्षाबलों द्वारा 11 जनवरी से नक्सलियों के खिलाफ लगातार सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। इस तलाशी अभियान के दौरान जंगल की पहाड़ी पर नक्सली दस्ते द्वारा बनाये गये मोर्चा आदि बरामद किये गये हैं। बरामद मोर्चा व अन्य सामान को मौके पर ही नष्ट कर दिया गया है।