Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंड

गुमला: भाजपा नेता सुमित केसरी की इलाज के दौरान मौत, बवाल

gumla bjp neta news

विरोध में पालकोट बाजार बंद, आक्रोशितों ने सड़क जाम कर किया हंगामा, कई वाहनों के शीशे तोड़े

गुमला : भाजपा के पूर्व पालकोट मंडल अध्यक्ष सुमित केशरी का शनिवार को रांची के मेडिका अस्पताल में इलाज के दौरान निधन हो गया. चार दिन पहले दो अपराधियों ने सुमित केसरी का पालकोट स्थित ईट भट्ठा से अगवा कर गोली मारने के बाद पत्थर से कूचकर घायल कर दिया था।

Gumla News
भाजपा नेता सुमित केशरी की फ़ाइल फोटो

इधर, उनके निधन की खबर मिलते ही पालकोट के लोगों में कोहराम मच गया। सभी दुकानें और व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद रहे। सभी लोग सड़क पर उतर गए और राउरकेला-गुमला एनएच 143 को जाम कर दिया। इसमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुईं। इस दौरान शरारती तत्वों ने कई वाहनों के शीशे भी तोड़ दिए।

सड़क पर जाम की सूचना पर बसिया एसडीओ संजय पीएम कुजूर, एसडीपीओ विकास आनंद लागुरी व अभियान एसपी मनीष कुमार वहां पहुंचे और प्रदर्शनकारियों को जाम हटाने के लिए समझाते रहे, लेकिन लोग डीसी गुमला को बुलाने की मांग पर अड़े रहे। मौके पर लोगों ने एसडीओ संजय पीएम कुजूर को मांग पत्र सौंपा।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

मांग पत्र में हत्यारों को अविलंब गिरफ्तार करने, मृतक के परिवार को सुरक्षा प्रदान करने, मृतक की पत्नी को सरकारी नौकरी देने, मृतक के आश्रितों को एक करोड़ मुआवजा देने की मांग की गयी है तथा मृतक के दोनों बच्चों की शिक्षा की समुचित व्यवस्था करना शामिल है।

आपको बता दें कि सुमित केशरी 9 जनवरी की रात पालकोट स्थित अपने फ्लाई ऐश प्लांट में थे। करीब साढ़े नौ बजे दो अज्ञात हथियारबंद बदमाशों ने उसका अपहरण कर लिया और गोली मारकर गंभीर रूप से घायल कर दिया। गंभीर हालत में उसे रांची के मेडिका अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां शनिवार सुबह पौने ग्यारह बजे उसकी मौत हो गयी।

गुमला एसपी के निर्देश पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी विकास आनंद लागुड़ी के नेतृत्व में एसआईटी का गठन किया गया है, लेकिन पुलिस के हाथ अभी खाली हैं। सभी सुमित के ठीक होने का इंतजार कर रहे थे।

gumla bjp neta news