Breaking :
||झारखंड में Suo-Moto Online Mutation की ऐतिहासिक शुरुआत, अब जमीन रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन के लिए नहीं देना पड़ेगा आवेदन||झारखंड प्रशासनिक सेवा के 14 अधिकारियों को मिली अपर सचिव के पद पर पदोन्नति||लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या||लातेहार: आदिवासी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में आदिवासी की मौत के बाद नहीं मिली एंबुलेंस, ठेले पर ले गया शव||पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार||चतरा में भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर ने किया पुलिस के सामने सरेंडर||लातेहार: सात दिन पूर्व दफनाये गये शव को महुआडांड़ पुलिस ने कब्र से निकलवाया, हत्या की आशंका||लातेहार : गैंगस्टर गोपाल शार्क शूटर के नाम से पोस्टर चस्पा कर दी चेतावनी, सभी को देनी होगी रंगदारी, दो दिन लातेहार व चंदवा बंद रखने की धमकी||लातेहार में उग्रवादी संगठन JJMP के सबजोनल कमांडर समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||झारखंड निकाय चुनाव में ओबीसी को आरक्षण नहीं देने के मामले में सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

हेरहंज में धानक्रय केंद्र का उद्घाटन, कल से शुरू होगी खरीदारी

लातेहाऱ : हेरहंज प्रखण्ड परिसर स्थित गोदाम में बुधवार को प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रदीप कुमार दास व सांसद प्रतिनिधि रूपेंद्र जायसवाल ने धान क्रय केंद्र का उद्घाटन फीता काटकर किया।

प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा कि किसानों को धान क्रय केंद्र में आसानी से धान बेच सकेंगे।

वहीं सांसद प्रतिनिधि रूपेंद्र जायसवाल ने कहा अब तक किसान बाजारों में कम दाम में धान बिक्री करने को विवश थे। अब किसानों को बाजार में धान नही बेचनी पड़ेगी अब वह सीधा लैम्प्स में आकर अपना धान बेच पायेंगे और उचित मूल्य भी मिल पायेगा।

जन सेवक सह कृषि पदाधिकारी समीर भेंगरा ने कहा कि इस लैम्पस केंद्र में 16 दिसम्बर 2021 से धान की खरीदारी शुरू कर दी जाएगी। जहां लैम्प्स के अध्यक्ष-बालदेव उरांव व सचिव-निखिल कुमार राणा के द्वारा धान की खरीदारी की जाएगी।

उन्होंने बताया कि नये किसानों के लिए रजिस्ट्रेशन फॉर्म भी बनाने की प्रक्रिया जारी रहेगा। इस वर्ष धान की खरीद 1940 व बोनस 110 रुपये प्रति किवंटल सरकारी दर पर की जाएगी।

मौके पर जनसेवक सूर्य प्रकाश कुमार, अध्यक्ष-बालदेव उरांव, सचिव-निखिल कुमार राणा, अशोक गुप्ता, योगेंद्र यादव(कृषक मित्र), लालदेव गंझू समेत दर्जनों किसान मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *