Breaking :
||सीएम हेमंत सोरेन की नहीं होगी गिरफ्तारी, ईडी के पास कोई पुख्ता सबूत नहीं||झारखंड से कोरोना की विदाई, सभी जिले कोरोना मुक्त घोषित||झारखंड: प्रमाण पत्र सत्यापन नहीं कराने वाले सहायक अध्यापक होंगे कार्यमुक्त||झारखंड में Suo-Moto Online Mutation की ऐतिहासिक शुरुआत, अब जमीन रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन के लिए नहीं देना पड़ेगा आवेदन||झारखंड प्रशासनिक सेवा के 14 अधिकारियों को मिली अपर सचिव के पद पर पदोन्नति||लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या||लातेहार: आदिवासी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में आदिवासी की मौत के बाद नहीं मिली एंबुलेंस, ठेले पर ले गया शव||पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार||चतरा में भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर ने किया पुलिस के सामने सरेंडर||लातेहार: सात दिन पूर्व दफनाये गये शव को महुआडांड़ पुलिस ने कब्र से निकलवाया, हत्या की आशंका

महुआडांड़: नौकरी के नाम पर दर्जनों महिलाओं से ठगी, थाने पहुंचीं महिलायें

mahuadand breaking news

लातेहार : गुमला के डुमरी निवासी फुलमंती कुजुर द्वारा डीडब्ल्यूडीएस एनजीओ संस्था के नाम पर महुआडांड, चैनपूर, हामी, ओरसापाठ, दुरुप व गारु प्रखंड के कोटाम, कारवाई, मायापूर, धांगरटोली की दर्जनों महिलाओं से नौकरी दिलाने के नाम पर छह-छह हजार रुपये ठगी करने का मामला सामने आया है।

इस मामले को लेकर सभी महिलाएं महुआडांड थाने पहुंचीं, जहां पुलिस निरीक्षक धर्मदेव पासवान से नौकरी दिलाने वाली महिला के खिलाफ शिकायत करते हुए बताया कि गांव अंबाटोली में महिला किराए पर मकान लेकर प्रशिक्षण देने का काम कर रही है।

शिकायत के बाद पुलिस निरीक्षक, महिला पुलिस व पीड़ित महिलायें प्रशिक्षण स्थल पर पहुंची तो ठगी करने वाली महिला मौके से फरार हो गई।

इस संबंध में तारा कुजूर, सरिता खलखो, शोभा लकड़ा, रीना कुजूर आदि महिलाओं ने बताया कि एक माह पूर्व फुलमंती कुजूर ने छह हजार रुपये लेकर प्रशिक्षण देते हुए एक एनजीओ के माध्यम से नौकरी दिलाने की बात कही। बताया कि जो भी योजना प्रखंड में आती है उसे एनजीओ को करना होता है। आप सभी को गांव में विकास कार्यों पर ध्यान देना चाहिए।

महिलाओं ने जब संगठन के बारे में जानकारी मांगी तो बिना किसी हिचकिचाहट के जानकारी नहीं दी गई। शक होने पर हम सभी अपने पैसे वापस मांगने लगे। उसके द्वारा आपको पैसे नहीं लौटाए गए, साथ ही यह धमकी भी दी गई कि आपने किसको पैसा दिया है, आप जहां भी जाएंगे, कोई भी मेरे लिए कुछ नहीं कर पाएगा।

इस संबंध में पुलिस निरीक्षक धर्मदेव पासवान ने बताया कि महिलाओं से पैसे की ठगी की गई। जांच के संबंध में आवेदन प्राप्त हुआ है और कार्रवाई की जाएगी।

mahuadand breaking news


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *