Breaking :
||सीएम हेमंत सोरेन की नहीं होगी गिरफ्तारी, ईडी के पास कोई पुख्ता सबूत नहीं||झारखंड से कोरोना की विदाई, सभी जिले कोरोना मुक्त घोषित||झारखंड: प्रमाण पत्र सत्यापन नहीं कराने वाले सहायक अध्यापक होंगे कार्यमुक्त||झारखंड में Suo-Moto Online Mutation की ऐतिहासिक शुरुआत, अब जमीन रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन के लिए नहीं देना पड़ेगा आवेदन||झारखंड प्रशासनिक सेवा के 14 अधिकारियों को मिली अपर सचिव के पद पर पदोन्नति||लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या||लातेहार: आदिवासी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में आदिवासी की मौत के बाद नहीं मिली एंबुलेंस, ठेले पर ले गया शव||पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार||चतरा में भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर ने किया पुलिस के सामने सरेंडर||लातेहार: सात दिन पूर्व दफनाये गये शव को महुआडांड़ पुलिस ने कब्र से निकलवाया, हत्या की आशंका

लातेहार: 40 से 50 की संख्या में आये माओवादियों ने दिया घटना को अंजाम, पर्चा छोड़ कर ली घटना की जिम्मेदारी

लातेहार : तीसरी रेल लाइन के लिए कार्य कर रही कंपनी टीटीआईपील के कंस्ट्रक्शन साइट पर माओवादियों ने हमला कर दिया है। इस दौरान माओवादियों ने कंपनी की साइट पर जमकर उत्पात मचाया। नक्सलियों ने निर्माण कार्य में लगे सभी कर्मियों को बंधक बना लिया और सभी वाहनों में आग लगा दी। घटना चंदवा थाना क्षेत्र अंतर्गत कठपुलिया के समीप डगडगिया पुल की है। माओवादियों ने मौके पर एक पर्चा छोड़ घटना की जिम्मेदारी ली है। हालांकि समाचार लिखे जाने तक घटना कि आधिकारिक पुष्टि नहीं हो पायी है।

40 से 50 की संख्या में आये थे माओवादी

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि चंदवा थाना क्षेत्र अंतर्गत सीआईसी सेक्शन के बरकाकाना-बरवाडीह रेलखंड पर टोरी और चेतर स्टेशन के बीच निर्माणाधीन 188 नम्बर ब्रिज पर आरवीएनएल के अंदर काम कर रही कंपनी टीटीआईपीएल के कर्मी काम में लगे थे। इसी दौरान देर शाम 40 से 50 की संख्या में माओवादी कंपनी की साइट पर पहुंचे और सभी कर्मियों को एक स्थान पर जमा होने का निर्देश दिया। इसके बाद सभी कर्मियों को बंधक बनाकर कहा कि कंपनी को हमने पूर्व में ही बात करने की चेतावनी दी थी। बात नहीं करने पर यह कार्रवाई की जा रही है। इसके बाद बारी-बारी से साइट पर खड़े सभी वाहन, उपकरण व बाइक में आग लगा दी।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

दो इंजीनियर को भी बनाया बंधक

इस दौरान माओवादियों ने साइट पर लगे पोकलेन मशीन, हाइवा, मोटरसाइकिल समेत अन्य वाहनों को फूंक दिया। इससे कंपनी को करोड़ों का नुकसान बताया जा रहा है। माओवादियों ने दो इंजीनियर को भी बंधक बनाया था जिसे घटना को अंजाम देने के बाद छोड़ दिया।

इसे भी पढ़ें :- लातेहार: तीसरी रेल लाइन निर्माण कार्य में लगी कंपनी के साइट पर माओवादियों का हमला, कर्मियों को बनाया बंधक, वाहनों को फूंका

अप रेल लाइन पर रेल यातायात बाधित

बताया गया कि माओवादियों ने एक पाइलिंग मशीन में भी आग लगा दी है। जिससे ब्रिज का एक हिस्सा जलने से अप रेल लाइन की ओर झुक गया है। इससे रेल यातायात भी प्रभावित होने का अनुमान लगाया जा रहा है। इसकी सूचना रेलवे को दे दी गयी है। एहतियातन अप रेलवे लाइन पर रेल यातायात खबर लिखे जाने तक बंद करा दिया गया था। माओवादियों की इस कार्रवाई के बाद कंपनी कर्मियों में दहशत का माहौल है।