Breaking :
||झारखंड निकाय चुनाव में ओबीसी को आरक्षण नहीं देने के मामले में सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस||रांची: ट्रैक्टर व बाराती गाड़ी की भीषण टक्कर में दो की मौत, दो गंभीर रूप से घायल||झारखंड: हाईकोर्ट में पारा शिक्षकों के समायोजन मामले में हुई सुनवाई||हजारीबाग में गैंगेस्टर अमन साहू गिरोह के दो शूटर हथियार के साथ गिरफ्तार, एक पलामू का||पलामू: कुख्यात गैंगेस्टर अमन साहू के गुर्गों ने JMM नेता को दी जान से मारने की धमकी, दो गिरफ्तार, एक लातेहार का||लातेहार: JJMP उग्रवादी की पत्नी से प्रेम संबंध के आरोप में मारे गये ओमप्रकाश यादव के हत्या का आरोपी गिरफ्तार||रांची में स्कूल के गार्ड ने की 11 साल की बच्ची के साथ छेड़छाड़, गिरफ्तार||लातेहार: बालूमाथ में अवैध कोयला लदा हाइवा जब्त, दो गिरफ्तार, जांच जारी||झारखंड के शराब दुकानदारों को मुख्यमंत्री की चेतावनी, कार्यशैली में लायें सुधार, नहीं तो होगी कार्रवाई||लातेहार: चंदवा में नाबालिग का यौन शोषण करने का आरोपी गिरफ्तार, जेल

शर्मनाक: पुलिस कर्मी पर जानवर से दुष्कर्म का आरोप, ग्रामीणों ने की मारपीट, आरोपी जवान निलंबित

गढ़वा : रमकंडा थाना क्षेत्र के उदयपुर गांव में स्थापित पिकेट सिपाही जगदीश राम जब पशुओं के साथ दुष्कर्म करते पकड़ा गया तो गुस्साए ग्रामीणों ने उसे बांधकर पीटा। वहीं घटना के बाद अधिकारियों ने कार्रवाई करते हुए आरोपी जवान को निलंबित कर देवघर मुख्यालय भेज दिया।

जानकारी के अनुसार मध्य विद्यालय में स्थापित अस्थाई पिकेट का सैट जगदीश शराब के नशे में गांव के हरवाही टोला गया था। जहां ग्रामीणों ने पशु से दुष्कर्म करते एक घर में पकड़ लिया। इस अमानवीय कृत्य से नाराज ग्रामीणों ने उसे बांधकर पीटा।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

वहीं, सूचना के बाद पिकेट के अन्य जवानों ने किसी तरह उसे ग्रामीणों के चंगुल से छुड़ाया और ले गए। इधर, घटना की सुबह आक्रोशित ग्रामीणों ने पूरे मामले की जानकारी जनप्रतिनिधियों समेत अधिकारियों को दी। इसके बाद गुरुवार को ग्रामीणों के साथ बैठक की गई।

बैठक के दौरान ग्रामीणों ने उक्त जवान के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने के साथ ही तत्काल पूरी कंपनी को हटाने की मांग की। ग्रामीणों का कहना है कि पिकेट के जवान अक्सर रात में बेवजह गांव में घूमते रहते हैं।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

ग्रामीणों की बात सुनकर थाना प्रभारी मंटू कुमार शर्मा ने उक्त जवान के खिलाफ कार्रवाई की बात कही। पूरी कंपनी को तुरंत ट्रांसफर करने और जल्द ही पिकेट का ट्रांसफर करने का आश्वासन दिया।