Breaking :
||पलामू में बिजली गिरने से तीन किशोर की मौत, बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छिपे थे||रांची में करंट लगने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत, तिरंगा लगाने के दौरान हुआ हादसा||15 अगस्त को झारखंड के 26 पुलिसकर्मियों को विभिन्न सेवाओं के लिए मेडल||रांची में नकली नोटों के तस्कर को पकड़ने गई दिल्ली पुलिस पर ग्रामीणों ने किया हमला, बनाया बंधक||झारखंड जल्द होगा सूखाग्रस्त घोषित, सभी मापदंडों पर तैयार हो रही रिपोर्ट||लातेहार: विद्यालय से उर्दू शब्द हटाए जाने पर मुस्लिम समुदाय में आक्रोश, किया प्रदर्शन||मुख्य धारा में लौटे नक्सलियों के सम्मान समारोह में अधिकारियों ने कहा- सरकार की सेरेंडर पॉलिसी का लाभ उठाएं नक्सली||लातेहार : खेत में धान बो रहे किसान पर गिरी बिजली, पति-पत्नी की मौके पर ही मौत||झारखंड भाजपा को मिलेगा नया प्रदेश अध्यक्ष, नियुक्ति को लेकर कई नामों पर चर्चा||अब झारखंड के बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगी 100 यूनिट मुफ्त बिजली

हेमंत सरकार के 2 साल पूरे होने पर की गई घोषणाओं के संबंध में भाजपा मंडल अध्यक्ष ने मुख्यमंत्री को बताया शराबी

'

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : झारखंड सरकार के 2 वर्ष पूरे होने के बाद जहां राज्य की हेमंत सरकार के द्वारा बीपीएल परिवारों को पेट्रोल की खरीदारी करने पर सब्सिडी की घोषणा किए जाने के बाद राजनीति का माहौल तय हो चुका है। जिसको लेकर गुरुवार को प्रेस वार्ता करते हुए भाजपा मंडल कमेटी के अध्यक्ष हर्षवर्धन सिंह ने हेमंत सरकार पर हमला किया।

हर्षवर्धन सिंह ने कहा कि जब राज्य में विकास की गति तेजी से बढ़ रही थी तो यही वर्तमान समय में विपक्षी पार्टी के रूप में काम कर रहे नेता द्वारा मुख्यमंत्री रघुवर दास को नशेड़ी कई तरह आरोप लगाए जा रहे थे पर वर्तमान समय के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की स्थिति देख कर तो लगता है कि वह एक साथ हड़िया महुआ जैसे कई तरह के दारू पी रहे जो कॉकटेल हो रहा है।

मुख्यमंत्री के द्वारा बीपीएल परिवारों के लिए तेल के दामों में सब्सिडी दिए जाने पर कहा कि अपन एक ओर जहां सरकार पक्के मकान और बाइक रखने वाले लोगों के राशन कार्ड को सरेंडर कराने का अभियान लंबे समय से चला रही है वही आज सरकार अपनी उपलब्धि के चक्कर में बीपीएल परिवारों को पेट्रोल की खरीदारी में सब्सिडी की घोषणा कर रही है जो अपने आप में हास्यप्रद है।

उन्होंने आगे कहा कि पूरे राज्य के साथ-साथ लातेहार जिले में भ्रष्टाचार इतना चरम पर है कि अधिकारी घंटे का भी पैसा ले रहे हैं। जहां मोटेशन के नाम पर ₹5000 लिए जा रहे हैं और पूछे जाने पर अधिकारियों के द्वारा बताया जाता है कि यह पैसा सरकार को भी जाता है और सरकार मजे से लूट करने का काम कर रही है जिससे जनता पूरी तरह से त्रस्त है।

प्रेस वार्ता के दौरान मौके पर सांसद प्रतिनिधि कन्हाई प्रसाद, मंडल कमेटी के उपाध्यक्ष सुनील कुमार सिंह, मंडल महामंत्री मनोज प्रसाद समेत कई लोग मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.