Breaking :
||पलामू में जन वितरण प्रणाली दुकानदार की गोली मारकर हत्या, पुलिस कर रही जांच||लातेहार: युवक हत्याकांड का खुलासा, भाभी ने ही करा दी देवर की हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार||थर्ड रेल लाइन निर्माण कार्य में लगी कंपनी के साइट पर नक्सलियों का उत्पात, फायरिंग कर जेसीबी में लगायी आग||दुर्गा पूजा पर आयोजित कार्यक्रम देख लौट रही नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म||हजारीबाग: तीर्थयात्रियों से भरे बस और ट्रक की सीधी टक्कर में 4 की मौत, 30 घायल||लातेहार: ढाबा चलाने की आड़ में अफीम व डोडा पाउडर बेचने के आरोप में ढाबा संचालक गिरफ्तार||रांची: गैस रिफिलिंग की दुकान में रखे सिलेंडर में हुए विस्फोट से चार दुकानें जलकर राख||चतरा में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, भारी मात्रा में सामान और हथियार बरामद||लातेहार: दशहरा व दुर्गा पूजा को लेकर मिठाई व फास्ट फूड दुकानों की हुई जांच, पांच दुकानों पर कार्रवाई, लगा जुर्माना||पलामू सिविल सर्जन 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार, बिल भुगतान के एवज में मांगी थी रिश्वत

लातेहार: 12 से 14 साल के बच्चों का टीकाकरण शुरू, लक्ष्य के अनुरूप टीकाकरण के निर्देश

'

लातेहार : उपायुक्त अबु इमरान के निर्देशानुसार उप विकास आयुक्त सुरेन्द्र कुमार वर्मा की अध्यक्षता में कोरोना संक्रमण के रोकथाम एवं स्वास्थ्य विभाग से संचालित योजनाओं की समीक्षा की गई।

इस क्रम में सीएस के द्वारा कोरोना संक्रमण के रोकथाम को लेकर स्वास्थ्य विभाग से किए जा रहे कार्य की जानकारी दी गई। बताया गया कि कोरोना टीकाकरण के सेकेंड एवं 12 से 14 वर्ष के बच्चों का आरंभ हो रहे टीकाकरण की जानकारी दी।

जिस पर उप विकास आयुक्त के द्वारा निर्देशित किया गया कि 12 से 14 वर्ष के बच्चों का पहले विद्यालय स्तर पर टीकाकरण करना सुनिश्चित करें एवं लक्ष्य को प्राप्त करें। वही सेकेंड डोज टीकाकरण का कार्य लक्ष्य के अनरूप नहीं होने पर उन्होंने अविलंब टीकाकरण शतप्रतिशत करने को लेकर सीएस को निर्देशित किया।

इस दौरान कोरोना जांच कार्य की भी समीक्षा की गई जिस पर पाया कि बरवाडीह प्रखंड में कोरोना जांच की गति काफी धीमी है। जिस पर उन्होंने कोरोना जांच की गति तेज करने का निर्देश दिया।

उन्होंने कहा कि कोरोना के रोकथाम के लिए जांच अतिआवश्यक है, जांच कार्य में लापरवाही नहीं बरते। समीक्षाक्रम में स्वास्थ्य विभाग से संचालित योजनाओं की भी समीक्षा की गई। बैठक में कुपोषित बच्चों को चिहिंत करने के लिए चलाए जा रहे समर अभियान की जानकारी दी गई। जिस पर उप विकास आयुक्त के द्वारा सभी एमओआइसी को निर्देशित किया गया कि अभियान के तहत चिहिंत कुपोषित बच्चों को अविलंब एमटीसी में भर्ती करना सुनिश्चित करें।

बैठक में उप विकास आयुुक्त को सीएस के द्वारा टीबी, कुष्ट एवं मलेरिया की रोकथाम के लिए विभाग से हो रहे कार्य की जानकारी दी। जिस पर उन्होंने निर्देशित किया कि टीबी एवं कुष्ट उन्मूलन कार्य को पूरी सजगता के साथ विभाग करे, ताकि जिला कुष्ट एवं टीबी रोग से मुक्त हो सके।

इस दौरान उन्होंने मलेरिया के लिए डीडीटी का छिड़काव ससमय करवाने का निर्देश दिया। समीक्षाक्रम में उप विकास आयुक्त के द्वारा स्वास्थ्य विभाग से संचालित अन्य कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर चर्चा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए।

मौके पर सीएस डा हरेन्द्रचंद्र, डा नीलमणि, वेद प्रकाश समेत सभी प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी एवं स्वास्थ्य कर्मी मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.