Breaking :
||लोहरदगा में हथियार के साथ एक गिरफ्तार, एक भागने में सफल, भारी मात्रा में हथियार व गोलियां बरामद||सीएम हेमंत सोरेन का ऐलान, नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज होगी रद्द, ग्रामीण 30 साल से कर रहे थे आंदोलन||कोलकाता हाईकोर्ट ने कांग्रेस के तीनों विधायकों को दी सशर्त अंतरिम जमानत||लातेहार: फिर एक महिला ने इलाज के बहाने डॉक्टर पर लगाया छेड़खानी का आरोप||बिहार में नीतीश कैबिनेट का विस्तार, 31 मंत्रियों ने ली शपथ, तेज प्रताप फिर बने मंत्री||DGP नीरज सिन्हा ने कहा- पिछले तीन साल में 1,526 नक्सली गिरफ्तार, 51 मारे गये||जम्मू-कश्मीर में जवानों से भरी बस खाई में गिरी, 7 जवान शहीद, 32 घायल, राष्ट्रपति ने व्यक्त की संवेदना||JPSC के पूर्व अध्यक्ष IPS अमिताभ चौधरी का हार्ट अटैक से निधन||लातेहार: पीटीआर के गारू पूर्वी वन क्षेत्र में हाथी की मौत, पोस्टमार्टम के लिए पहुंची मेडिकल टीम||पलामू में बिजली गिरने से तीन किशोर की मौत, बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छिपे थे

झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय की वार्डन पर लापरवाही बरतने का आरोप, कार्रवाई की मांग

'

बारियातू/संजय राम

लातेहार : झारखंड बालिका आवासीय विद्यालय बारियातू के अध्यक्ष आनंद उरांव ने विद्यालय के वार्डन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है।

अध्यक्ष आनंद ने प्रखंड प्रमुख महावीर उरांव को लिखित आवेदन देकर बताया कि मैं 23 दिसंबर गुरुवार को विद्यालय पहुंचा तो वार्डन सहित एक भी शिक्षिका विद्यालय में उपस्थित नही थी। गुरुवार से ही विद्यालय एक सप्ताह के लिए बंद हो रहा था, जिस कारण विद्यालय में अध्यनरत छात्राएं अपने घर जाने की तैयारी में थीं। लेकिन वार्डन सहित कोई शिक्षिका नही रहने से छात्राएं काफी परेशानी थी। विद्यालय में उनकी देख-रेख करने वाला भी कोई नही था।

आवेदन में आगे बताया गया है कि पूर्व में भी वार्डन इस तरह की लापरवाही करती रही हैं। जिसकी सूचना प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी को भी दी गई है, फिर न तो कोई करवाई की गई है न ही कोई सुधार हुआ है। विद्यालय में विषयवार शिक्षकों की भी कमी है।

विद्यालय के अध्यक्ष सहित अन्य अभिभावकों ने वार्डन सहित अन्य शिक्षिकाओं की शिक्षण कार्य शैली में सुधार लाने या स्थानांतरण करने की मांग किया है।

इस संबंध में प्रखंड प्रमुख महावीर उरांव ने कहा कि विद्यालय के अध्यक्ष सहित अन्य अभिभावकों ने दूरभाष पर जानकारी दिया कि विद्यालय से वार्डन सहित अन्य शिक्षिका गायब है। इस सूचना पर जब मैं विद्यालय पहुंचा तो वार्डन सहित कोई शिक्षिका को भी उपस्थित नही थी, जो इनकी लापरवाही को दर्शाता है। लिखित आवेदन मिला है कार्रवाई के लिए जिले के अधिकारियों को प्रेषित किया जाएगा।

आवेदन देने वालो में मुख्य रूप से रामचंद्र गंझू, पंकज कुमार यादव, धनेश्वर कुजूर, प्रमोद राम, नरेश उरांव, रामजतन पंडित, बसंती देवी, अमीर गंझू सहित अन्य अभिभावक शामिल हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published.