Breaking :
||झारखंड में Suo-Moto Online Mutation की ऐतिहासिक शुरुआत, अब जमीन रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन के लिए नहीं देना पड़ेगा आवेदन||झारखंड प्रशासनिक सेवा के 14 अधिकारियों को मिली अपर सचिव के पद पर पदोन्नति||लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या||लातेहार: आदिवासी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में आदिवासी की मौत के बाद नहीं मिली एंबुलेंस, ठेले पर ले गया शव||पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार||चतरा में भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर ने किया पुलिस के सामने सरेंडर||लातेहार: सात दिन पूर्व दफनाये गये शव को महुआडांड़ पुलिस ने कब्र से निकलवाया, हत्या की आशंका||लातेहार : गैंगस्टर गोपाल शार्क शूटर के नाम से पोस्टर चस्पा कर दी चेतावनी, सभी को देनी होगी रंगदारी, दो दिन लातेहार व चंदवा बंद रखने की धमकी||लातेहार में उग्रवादी संगठन JJMP के सबजोनल कमांडर समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||झारखंड निकाय चुनाव में ओबीसी को आरक्षण नहीं देने के मामले में सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस

जब विभाग ने नहीं ली सुध तो ग्रामीणों ने निजी कोष से जर्जर सड़क की कराई मरम्मत

बारियातू /संजय राम

लातेहार : बारियातू प्रखंड के शिबला पंचायत अंतर्गत पूरनाशिबला से उस्मान डैम श्मशान घाट जाने वाली जर्जर सड़क को ग्रामीणों ने निजी कोष से मरम्मत करवाया।

ग्रामीण दिले उरांव, बोले उरांव, सूले उरांव, पंचम उरांव, महेंद्र उरांव, बिहारी उरांव, मुन्ना उरांव, बालेश्वर उरांव, जेठू गंझू, गुंजरी देवी, बालकेश्वर कुमार, सुखदेव उरांव, लछु उरांव, नन्हका गंझू सहित कई ग्रामीणों ने बताया कि हमलोग अपने मुहल्ला पुरनासिबला व डोकिया से श्मशान घाट तक किसी मृत व्यक्ति को अंतिम संस्कार करने के लिए ले जाने के क्रम में रास्ता खराब रहने के कारण काफी कठिनाई होती थ। जिसे देखते हुए उक्त दोनो मुहल्ले की ग्रामीणों ने घर-घर चंदा इकट्ठा कर जेसीबी मशीन से लगभग 1 किलोमीटर दूरी तक मिट्टी का सड़क बनवाया है।

ग्रामीणों ने आगे बताया कि पूर्व में हमलोग श्मशान घाट जर्जर रास्ता को मरम्मत करने के लिए सम्बंधित विभाग को आवेदन दिए थे लेकिन किसी भी तरह का सड़क मरम्मति करवाने तथा सड़क निर्माण के लिए सरकारी योजना नहीं मिलने के कारण विवश होकर हम लोग सभी ग्रामीण चंदा इकट्ठा कर इस जर्जर सड़क को बनवाए हैं। ग्रामीणों ने प्रखंड प्रशासन से उक्त बनाए गए मिट्टी की सड़क को पीसीसी करवाने की मांग की है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *