Breaking :
||Jharkhand: प्रेमी ने पांच माह की गर्भवती प्रेमिका को गला दबाकर मार डाला||कोयला लदे हाइवा व ट्रक की भीषण टक्कर में दोनों चालकों की दर्दनाक मौत||रांची: असामाजिक तत्वों ने मेन रोड स्थित हनुमान मंदिर में की तोड़फोड़, प्रतिमा क्षतिग्रस्त||बालूमाथ: वज्रपात की चपेट में आने से पत्नी की मौत, पति समेत दो घायल||पातम-डाटम जलप्रपात में डूबे दोनों युवकों के शव बरामद, प्रशासनिक उदासीनता से ग्रामीणों में आक्रोश||तीन माह की गर्भवती महिला से छह अपराधियों ने पति के सामने किया सामूहिक दुष्कर्म, सभी आरोपी गिरफ्तार||लातेहार: माइंस खोलने को लेकर भूमि पूजन करने मंगरा गांव पहुंची डीवीसी कंपनी का विरोध, दो पक्षों में जमकर मारपीट, आधा दर्जन लोग घायल||लातेहार: नाबालिग से दुष्कर्म कर बनाया वीडियो, वायरल करने की धमकी दे करता रहा दुष्कर्म, ग्रामीणों ने पिटायी कर पुलिस को सौंपा||BREAKING: बालूमाथ में मधुमक्खियों ने फिर किया हमला, एक आदिवासी महिला की मौत, छह घायल||लातेहार: पातम-डाटम जल प्रपात घूमने आये दो युवकों की नहाने के दौरान नदी में डूबने से मौत

सीएम ने दिवंगत रूपेश पांडेय की मां को सौंपा नियुक्ति पत्र व 5 लाख रुपये का चेक

'

Rupesh Pandey

रांची : सीएम हेमंत सोरेन ने दिवंगत रूपेश पांडेय के परिजनों से अपने आवासीय कार्यालय में मुलाकात की। मौके पर सीएम ने रूपेश पांडे की मां उर्मिला देवी को नियुक्ति पत्र और पांच लाख रुपये का चेक भी सौंपा।

बता दें कि हजारीबाग जिले के बरही थाना क्षेत्र के नईटांड़ निवासी 17 वर्षीय रूपेश पांडे की सरस्वती पूजा विसर्जन के दौरान हत्या कर दी गयी थी। इस दौरान भीड़ ने रूपेश पांडे समेत कुल 3 लोगों की पिटाई कर दी थी, जिसमें रूपेश की जान चली गयी थी।

सीएम ने अपने आवासीय कार्यालय में उनके परिवार के सदस्यों से मुलाकात की। मामले में 27 नामजद समेत कुल 100 लोगों को आरोपी बनाया गया था। कई आरोपितों को गिरफ्तार भी किया गया है।

मामले ने राज्य में सांप्रदायिक रंग भी ले लिया था क्योंकि आरोपी एक विशेष समुदाय से थे। इस हत्याकांड को लेकर राज्य में विरोध भी हुआ था। हालांकि मामले की जांच की जा रही है।

घटना के बाद हजारीबाग, कोडरमा, गिरिडीह, चतरा सहित कुल पांच जिलों में अफवाहों को रोकने के लिए इंटरनेट सेवा बाधित कर दी गयी थी। ताकि किसी भी तरह का सांप्रदायिक तनाव न हो। इस घटना की राष्ट्रीय स्तर पर भी चर्चा हुई थी।

मालूम हो कि सीएम ने मामले में परिवार को निष्पक्ष और त्वरित न्याय का आश्वासन दिया है। जांच के लिए एसआईटी का गठन भी किया गया था।

Rupesh Pandey