Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Thursday, June 13, 2024
झारखंड

गुमला में हुई घटना निंदनीय JJMP पर लगा आरोप बेबुनियाद : कर्मवीर जी

गुमला : प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन जेजेएमपी के कर्मवीर जी ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कहा है कि गुमला जिले के चैनपुर थाना क्षेत्र के जनावल गांव में जो घटना हुई है, वह निंदनीय है। घटना के बाद जेजेएमपी संगठन पर जो आरोप लगाए गए हैं वह बिल्कुल बेबुनियाद है।

जारी विज्ञप्ति में बताया है कि चैनपुर थाना क्षेत्र के जनावल गांव में जो नेहा नीति कुजुर और उनकी तीन साल की बच्ची अनन्या के साथ जो घटना हुई है, उसमें जेजेएमपी संगठन का हाथ नहीं है।

आगे बताया है कि जेजेएमपी के सुकरा उरांव की हत्या कर कुटुमा निवासी बहुरा मुंडा, अमर लकड़ा उर्फ़ अमरजीत, संतोष उरांव, संदीप, अमन लकड़ा, साइन मुंडा ने मिलकर झारखंड जन संग्राम सेनानी नामक संगठन का विस्तार किया था।

आगे बताया है कि कुछ ही दिन बाद संगठन के दोनों कमांडर बहुरा और अमर के बीच तालमेल नहीं बनी और दोनों आपस में ही भिड़ गए। इस खूनी संघर्ष में नेहा नीति कुजुर और उनके 3 वर्षीय बच्चे की हत्या कर दी गयी। हत्या के बाद इसका आरोप जेजेएमपी संगठन पर लगाया गया, जो बिल्कुल बेबुनियाद है।

अंत में लिखा है कि संगठन कभी भी इस तरह की कायरता पूर्ण घटना को अंजाम नहीं देती है। जेजेएमपी संगठन इस घटना से इनकार करते हुए इसकी जांच बारीकी से कराने की मांग करती है। जारी प्रेस विज्ञप्ति में निवेदक के रूप में जेजेएमपी के कर्मवीर जी का नाम लिखा है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *