Breaking :
||पलामू में जन वितरण प्रणाली दुकानदार की गोली मारकर हत्या, पुलिस कर रही जांच||लातेहार: युवक हत्याकांड का खुलासा, भाभी ने ही करा दी देवर की हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार||थर्ड रेल लाइन निर्माण कार्य में लगी कंपनी के साइट पर नक्सलियों का उत्पात, फायरिंग कर जेसीबी में लगायी आग||दुर्गा पूजा पर आयोजित कार्यक्रम देख लौट रही नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म||हजारीबाग: तीर्थयात्रियों से भरे बस और ट्रक की सीधी टक्कर में 4 की मौत, 30 घायल||लातेहार: ढाबा चलाने की आड़ में अफीम व डोडा पाउडर बेचने के आरोप में ढाबा संचालक गिरफ्तार||रांची: गैस रिफिलिंग की दुकान में रखे सिलेंडर में हुए विस्फोट से चार दुकानें जलकर राख||चतरा में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, भारी मात्रा में सामान और हथियार बरामद||लातेहार: दशहरा व दुर्गा पूजा को लेकर मिठाई व फास्ट फूड दुकानों की हुई जांच, पांच दुकानों पर कार्रवाई, लगा जुर्माना||पलामू सिविल सर्जन 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार, बिल भुगतान के एवज में मांगी थी रिश्वत

यूक्रेन से वापस लौटी बरवाडीह की राजनंदिनी, परिजनों ने सरकार का जताया आभार

'

Barwadih Rajnandini Ukraine

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : यूक्रेन-रूस युद्ध के दौरान बिगड़े हालात के बीच बरवाडीह प्रखंड की मेडिकल की छात्रा राजनंदिनी फंस गई थी। जिसके वापस भारत लाने को लेकर परिवार के लोगों के साथ-साथ स्थानीय सांसद और विधायक समेत कई अन्य जनप्रतिनिधियों के द्वारा केंद्र सरकार और विदेश मंत्रालय से लगातार गुहार लगाई गयी थी।

जिसके बाद केंद्र सरकार के ऑपरेशन गंगा अभियान के तहत बरवाडीह के बाजार निवासी मनोज प्रसाद की बेटी राजनंदनी की भारत वापसी हुई। वह बुधवार की सुबह दिल्ली से रांची जाने वाली गरीब रथ ट्रेन से डाल्टनगंज पहुंची।

इस दौरान राजनंदिनी के माता-पिता, हीरो शोरूम के मालिक मुकेश कुमार और स्थानीय पत्रकार रवि गुप्ता ने रेलवे स्टेशन पर स्वागत करते हुए शॉल भेंट कर सम्मानित किया। बरवाडीह पहुंचने के बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी के निर्देश पर राजनंदनी और उनके पूरे परिवार का प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉ आशीष रंजन के द्वारा कोविड-19 जांच किया गया। जहां सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई ।

यूक्रेन के कीव में कर रही थी एमबीबीएस

राजनंदनी यूक्रेन के किस शहर में एमबीबीएस की पढ़ाई कर रही थी। युक्रेन में युद्ध से हालात बिगड़ने के बाद वह लगातार भारतीय दूतावास के संपर्क में थी। भारतीय दूतावास की सहायता से रोमानिया लाई गई। जिसके बाद ऑपरेशन गंगा के तहत उसे भारत की सरकार की सहायता से सुरक्षित वापस भारत लाया गया। घर वापस आने के बाद राजनंदनी युद्ध के दौरान पूरे देश और अपने साथ गुजरे उन पलों को बताने का भी काम परिवार के लोगों और मौजूद लोगों के बीच किया गया।

परिवार के लोगों ने जताया सरकार का आभार

राजनंदिनी के यूक्रेन से वापस सुरक्षित भारत आने पर राजनंदनी के माता-पिता के द्वारा भारत सरकार के द्वारा चलाए गए ऑपरेशन गंगा को लेकर प्रधानमंत्री विदेश मंत्री का आभार व्यक्त करने के साथ-साथ स्थानीय सांसद सुनील सिंह और स्थानीय विधायक रामचंद्र सिंह का भी आभार व्यक्त किया गया ।

Barwadih Rajnandini Ukraine


Leave a Reply

Your email address will not be published.