Breaking :
||पलामू में जन वितरण प्रणाली दुकानदार की गोली मारकर हत्या, पुलिस कर रही जांच||लातेहार: युवक हत्याकांड का खुलासा, भाभी ने ही करा दी देवर की हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार||थर्ड रेल लाइन निर्माण कार्य में लगी कंपनी के साइट पर नक्सलियों का उत्पात, फायरिंग कर जेसीबी में लगायी आग||दुर्गा पूजा पर आयोजित कार्यक्रम देख लौट रही नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म||हजारीबाग: तीर्थयात्रियों से भरे बस और ट्रक की सीधी टक्कर में 4 की मौत, 30 घायल||लातेहार: ढाबा चलाने की आड़ में अफीम व डोडा पाउडर बेचने के आरोप में ढाबा संचालक गिरफ्तार||रांची: गैस रिफिलिंग की दुकान में रखे सिलेंडर में हुए विस्फोट से चार दुकानें जलकर राख||चतरा में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, भारी मात्रा में सामान और हथियार बरामद||लातेहार: दशहरा व दुर्गा पूजा को लेकर मिठाई व फास्ट फूड दुकानों की हुई जांच, पांच दुकानों पर कार्रवाई, लगा जुर्माना||पलामू सिविल सर्जन 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार, बिल भुगतान के एवज में मांगी थी रिश्वत

चंदवा: पुलिस और झामुमो नेता की पहल पर दो पक्षों में गहराया विवाद सुलझा, बड़ी अनहोनी टली

'

लातेहार : चंदवा प्रखंड अंतर्गत माल्हन पंचायत के केकराही गांव में तालाब मरम्मत योजना को लेकर जितेंद्र गंझू, विजय गंझू और दूसरा पक्ष भीम गंझू, अर्जुन गंझू, गंगाधर गंझू, मंटू गंझू, जयमंगल गंझू, मनोज गंझू आमने-सामने आ गए।

पहले पक्ष जितेंद्र गंझू तालाब की जमीन पर दावा कर रहे थे, वहीं दूसरी तरफ भीम गंझू व अन्य इसे सरकारी जमीन बता रहे थे। इसे लेकर दोनों पक्षों के बीच विवाद और गहरा गया।

इसके समाधान के लिए ग्रामीणों ने गांव में ग्राम सभा भी की, लेकिन पहले पक्ष ने नहीं सुनी. यहां एक सप्ताह तक विवाद बढ़ता गया और मामले को लेकर पहला पक्ष थाने पहुंच गया। जिसके बाद दूसरे पक्ष के लोगों को भी थाने में बुलाया गया।

इसकी जानकारी ग्रामीणों ने झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य दीपू कुमार सिन्हा को भी दी। श्री सिन्हा ने ग्रामीणों को थाने पहुंचने की सलाह दी। इसके बाद दूसरे पक्ष सहित गांव के सैकड़ों लोग ग्रामीण थाने पहुंचे। श्री सिन्हा ने पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी आशुतोष कुमार को मामले में उत्पन्न विवाद से अवगत कराया।

इसके बाद निरीक्षक सह थाना प्रभारी, झामुमो नेता व पंचायत समिति सदस्य कांति देवी, मुखिया मानती देवी, उप मुखिया बिरसी देवी समेत सैकड़ों ग्रामीणों की मौजूदगी में फिर बैठक हुई। इसमें दोनों पक्षों ने आपसी सहमति से उपजे विवाद को सुलझा लिया है। विवाद शांत होने के बाद ग्रामीणों ने राहत की सांस ली है।

बैठक में रूपलाल गंझू, बबीता देवी, रामकिशुन गंझू, लक्ष्मण गंझू, दिलीप गंझू, हरिलाल गंझू समेत सैकड़ों ग्रामीण मौजूद थे।

लातेहार की ताज़ा ख़बरें देखने के लिए यहाँ क्लिक करें