Breaking :
||लोहरदगा में हथियार के साथ एक गिरफ्तार, एक भागने में सफल, भारी मात्रा में हथियार व गोलियां बरामद||सीएम हेमंत सोरेन का ऐलान, नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज होगी रद्द, ग्रामीण 30 साल से कर रहे थे आंदोलन||कोलकाता हाईकोर्ट ने कांग्रेस के तीनों विधायकों को दी सशर्त अंतरिम जमानत||लातेहार: फिर एक महिला ने इलाज के बहाने डॉक्टर पर लगाया छेड़खानी का आरोप||बिहार में नीतीश कैबिनेट का विस्तार, 31 मंत्रियों ने ली शपथ, तेज प्रताप फिर बने मंत्री||DGP नीरज सिन्हा ने कहा- पिछले तीन साल में 1,526 नक्सली गिरफ्तार, 51 मारे गये||जम्मू-कश्मीर में जवानों से भरी बस खाई में गिरी, 7 जवान शहीद, 32 घायल, राष्ट्रपति ने व्यक्त की संवेदना||JPSC के पूर्व अध्यक्ष IPS अमिताभ चौधरी का हार्ट अटैक से निधन||लातेहार: पीटीआर के गारू पूर्वी वन क्षेत्र में हाथी की मौत, पोस्टमार्टम के लिए पहुंची मेडिकल टीम||पलामू में बिजली गिरने से तीन किशोर की मौत, बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छिपे थे

लातेहार सिविल सर्जन की गिरफ्तारी की मांग को लेकर सड़क जाम, अधिकारियों के आश्वासन के बाद हटाया जाम

'

रामकुमार/लातेहार

लातेहार : सिविल सर्जन डॉ हरेनचंद्र महतो द्वारा की गई छेड़छाड़ और अब तक कोई कार्रवाई नहीं होने से आक्रोशित लोगों ने समाहरणालय गेट के पास एनएच-39 को एक घंटे तक जाम कर दिया। जिससे सड़क के दोनों ओर वाहनों की कतार लग गई। सड़क जाम होने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा।

सड़क जाम का नेतृत्व सरना समिति के बैनर तले सेलेस्टिन कुजूर, जिप सदस्य पूर्वी विनोद उरांव, नगर पंचायत उपाध्यक्ष नवीन कुमार सिन्हा, समिति सचिव बिरसा मुंडा, सांसद प्रतिनिधि राजन तिवारी और अन्य महिला जनप्रतिनिधियों ने संयुक्त रूप से किया।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस दौरान जाम में शामिल लोगों ने जमकर नारेबाजी की। मौके पर नगर पंचायत उपाध्यक्ष नवीन सिन्हा ने कहा कि सिविल सर्जन को तत्काल जेल भेजा जाए। उन्होंने कहा कि जब इस मामले में प्राथमिकी दर्ज की गई है, तो पुलिस प्रशासन क्यों नरमी बरत रहा है। उन्होंने साफ कहा है कि अगर सिविल सर्जन को गिरफ्तार नहीं किया गया और सात दिन के भीतर जेल नहीं भेजा गया तो आंदोलन के साथ लातेहार को बंद कर दिया जाएगा.

विनोद उरांव, राजन तिवारी व सेलेस्टिन कुजूर ने संयुक्त रूप से कहा कि सदर अस्पताल में अल्ट्रा साउंड चालू कराया जाय। सिविल सर्जन के निजी क्लीनिक में अल्ट्रा साउंड बंद कराया जाय। भ्रूण हत्या बंद हो। साथ ही महिलाओ व लड़कियों की सुरक्षा की गारंटी देने की बात कही।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

इधर सड़क जाम की सूचना पर सदर अंचलाधिकारी रुद्र प्रताप, सदर थाना के इंस्पेक्टर सह थाना प्रभारी अमित कुमार गुप्ता जाम स्थल पहुंचे और जामकर्ताओं को समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे नही माने।

इंस्पेक्टर अमित गुप्ता ने कहा कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है, जांच जारी है। लोग सात दिन में कार्रवाई की मांग कर रहे थे। एक घंटे के रोड जाम के बाद गिरफ्तारी समेत अस्पताल में विभिन्न समस्याओं के समाधान के लिए लिखित आवेदन दिया गया।

इस दौरान अंचलाधिकारी व थाना प्रभारी द्वारा जांच रिपोर्ट आने के बाद करवाई व सदर अस्पताल की समस्या के समाधान का भरोसा दिलाकर जाम हटवाया गया।

मौके पर जितेंद्र पाठक, गोपाल सिंह, श्रवण पासवान, हरिशंकर यादव, मुखिया सुनीता देवी, गुड़िया सिन्हा, सुनैना कुमारी, पॉल एक्का समेत काफी संख्या मे लोग मौजूद थे।