Breaking :
||झारखंड में धूमधाम से मनाया गया प्रकृति का पर्व सरहुल, निकाली गयी भव्य शोभायात्रा||झारखंड: सुरक्षाबलों के दबिश का परिणाम, दो महिला नक्सली समेत 15 माओवादियों ने एक साथ किया सरेंडर||पलामू: प्रेम प्रसंग में युवक की हत्या, शव फंदे से लटकाया!||चतरा: TSPC के उग्रवादियों ने बालू माफियाओं को अवैध खनन बंद करने की दी चेतावनी||पलामू में दो मादक पदार्थ तस्करों को 10-10 साल सश्रम कारावास की सजा, एक-एक लाख रुपये का जुर्माना||पलामू में अवैध शराब की खेप के साथ तस्कर गिरफ्तार, बिहार में खपाने की थी तैयारी, कार जब्त||शहरी जलापूर्ति योजना से 20 करोड़ रुपये गबन करने का आरोपी PHED कर्मचारी गिरफ्तार||लातेहार: आगामी त्योहारों के दौरान बिजली संबंधी समस्याओं एवं आपात स्थिति से निपटने के लिए मोबाइल नंबर जारी||सांप्रदायिक सौहार्द्र में खलल डालने वाले तत्वों के खिलाफ होगी सख्त कार्रवाई, DJ संचालकों से भरवाये जायेंगे बांड||झामुमो ने राजमहल और सिंहभूम लोकसभा सीट से उतारे उम्मीदवार
Friday, April 12, 2024
लातेहारहेरहंज

हेरहंज: पुराने चहारदीवारी को दिया जा रहा है नये चहारदीवारी का रूप

प्रदीप यादव/हेरहंज

लातेहार : हेरहंज प्रखंड क्षेत्र के चिरु पंचायत के बिजरा ग्राम में पुराने कब्रिस्तान की पुरानी चहारदीवारी को नये चहारदीवारी का रूप दिया जा रहा है। कल्याण विभाग से 23,15,700 लाख रुपये की लागत से चहारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा है।

बता दें कि झारखण्ड सरकार द्वारा सरना स्थल, कब्रिस्तान, देवी मंडप स्थल आदि स्थानों पर जहां चहारदीवारी नहीं है, उन स्थानों के लिए नये चहारदीवारी का निर्माण व जहां पूर्व में चहारदीवारी है, वहां जीर्णोद्धार की स्वीकृति दी गई है।

जबकि बिजरा ग्राम के ग्रामीणों का कहना है कि पुराने कब्रिस्तान में पहले ही चहारदीवारी का निर्माण कराया गया है। इसके बावजूद जीर्णोद्धार के स्थान पर नये चहारदीवारी का निर्माण कराया जा रहा है।

झारखंड सरकार के संचिका संख्या-05/ कब्रिस्तान घेराबंदी -01/2021-172 सूची में इस योजना का नाम घेराबंदी के नाम से दर्ज है।

स्थानीय लोगों ने आरोप लगाया है कि बिचौलियों व विभाग की मिली भगत से पैसे की बंदरबांट करने के लिए इस योजना को स्वीकृत कराया गया है।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *