Breaking :
||झारखंड से कोरोना की विदाई, सभी जिले कोरोना मुक्त घोषित||झारखंड: प्रमाण पत्र सत्यापन नहीं कराने वाले सहायक अध्यापक होंगे कार्यमुक्त||झारखंड में Suo-Moto Online Mutation की ऐतिहासिक शुरुआत, अब जमीन रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन के लिए नहीं देना पड़ेगा आवेदन||झारखंड प्रशासनिक सेवा के 14 अधिकारियों को मिली अपर सचिव के पद पर पदोन्नति||लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या||लातेहार: आदिवासी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में आदिवासी की मौत के बाद नहीं मिली एंबुलेंस, ठेले पर ले गया शव||पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार||चतरा में भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर ने किया पुलिस के सामने सरेंडर||लातेहार: सात दिन पूर्व दफनाये गये शव को महुआडांड़ पुलिस ने कब्र से निकलवाया, हत्या की आशंका||लातेहार : गैंगस्टर गोपाल शार्क शूटर के नाम से पोस्टर चस्पा कर दी चेतावनी, सभी को देनी होगी रंगदारी, दो दिन लातेहार व चंदवा बंद रखने की धमकी

पूजा समिति ने सरईडीह शिव मंदिर के संस्थापक व महिला समाजसेवी समेत दर्जनों लोगों को किया सम्मानित

शशि शेखर/बरवाडीह/बेतला

लातेहार : रविवार को प्रखंड के प्रसिद्ध पर्यटन औऱ धर्मिक स्थल के रूप में विख्यात सरईडीह शिव मंदिर में स्थापित सरस्वती पूजा समिति के द्वारा मंदिर परिसर में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

आयोजन समिति के द्वारा सम्मान समारोह के माध्यम से सबसे पहले मंदिर निर्माण में अहम योगदान देने वाले मंदिर के संस्थापक और समाजसेवी अमरेश प्रसाद गुप्ता और उनकी धर्मपत्नी उषा गुप्ता को चुनरी और अन्य वस्त्र भेंट करके सम्मानित किया गया।

समिति के द्वारा प्रखंड की जिला परिषद की उम्मीदवार और अपना अधिकार अपना सम्मान मंच की सचिव संतोषी शेखर को भी चुनरी भेंट कर सम्मानित किया गया। साथ ही कमलेश कुमार सिंह, नमो एप के लोकसभा संयोजक दिलीप सिंह यादव, उमेश प्रसाद, जोखन प्रसाद, रामनाथ साहू, नवल प्रसाद, राधा कृष्ण प्रसाद, अभय सिंह, रणविजय सिंह, संतोष कुमार गुप्ता समेत कई प्रमुख लोगों को अंग वस्त्र भेंट करके सम्मानित किया गया।

मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए अमरेश प्रसाद गुप्ता ने कहा कि हमारी संस्कृति हमारी पहचान है और इसे बचाने के लिए हम सभी को अपने धर्म और संस्कृति का ज्ञान लेना बहुत जरूरी है। इसके लिए हम सभी को एकजुट होकर अपने धर्म संस्कृति की रक्षा करने और उसे जन-जन तक पहुंचाने का योगदान देना चाहिए।

मैला समाजसेवी संतोषी शेखर ने कहा कि सरईडीह शिव मंदिर हम सब की धरोहर है और इस धरोहर को धार्मिक और पर्यटन स्थल के रूप में पहचान दिलाने के लिए अमरेश प्रसाद जी के द्वारा किया गया कार्य और योगदान अनमोल और अनुकरणीय है।

मौके पर विकास सिंह, विशाल सिंह, चंदन कुमार, विशाल कुमार पप्पू, चंदन प्रसाद, मनीष प्रसाद, रंजन प्रसाद, संजीत प्रसाद, प्रदेश सिंह, आदित्य प्रसाद, अमित कुमार शुभांग, अरविंद, अविनाश कुमार, सोनू कुमार समेत काफी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *