Breaking :
||पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की जमानत याचिका पर कल होगी सुनवाई||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, शादी समारोह से लौट रही कार पेड़ से टकरायी, पति की मौत, पत्नी और पोते की हालत नाजुक||लातेहार: सिरफिरे युवक ने दो महिलाओं समेत पिता को कुल्हाड़ी से काट डाला, गिरफ्तार||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक
Tuesday, April 23, 2024
बरवाडीहलातेहार

पूजा समिति ने सरईडीह शिव मंदिर के संस्थापक व महिला समाजसेवी समेत दर्जनों लोगों को किया सम्मानित

शशि शेखर/बरवाडीह/बेतला

लातेहार : रविवार को प्रखंड के प्रसिद्ध पर्यटन औऱ धर्मिक स्थल के रूप में विख्यात सरईडीह शिव मंदिर में स्थापित सरस्वती पूजा समिति के द्वारा मंदिर परिसर में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया।

आयोजन समिति के द्वारा सम्मान समारोह के माध्यम से सबसे पहले मंदिर निर्माण में अहम योगदान देने वाले मंदिर के संस्थापक और समाजसेवी अमरेश प्रसाद गुप्ता और उनकी धर्मपत्नी उषा गुप्ता को चुनरी और अन्य वस्त्र भेंट करके सम्मानित किया गया।

समिति के द्वारा प्रखंड की जिला परिषद की उम्मीदवार और अपना अधिकार अपना सम्मान मंच की सचिव संतोषी शेखर को भी चुनरी भेंट कर सम्मानित किया गया। साथ ही कमलेश कुमार सिंह, नमो एप के लोकसभा संयोजक दिलीप सिंह यादव, उमेश प्रसाद, जोखन प्रसाद, रामनाथ साहू, नवल प्रसाद, राधा कृष्ण प्रसाद, अभय सिंह, रणविजय सिंह, संतोष कुमार गुप्ता समेत कई प्रमुख लोगों को अंग वस्त्र भेंट करके सम्मानित किया गया।

मौजूद लोगों को संबोधित करते हुए अमरेश प्रसाद गुप्ता ने कहा कि हमारी संस्कृति हमारी पहचान है और इसे बचाने के लिए हम सभी को अपने धर्म और संस्कृति का ज्ञान लेना बहुत जरूरी है। इसके लिए हम सभी को एकजुट होकर अपने धर्म संस्कृति की रक्षा करने और उसे जन-जन तक पहुंचाने का योगदान देना चाहिए।

मैला समाजसेवी संतोषी शेखर ने कहा कि सरईडीह शिव मंदिर हम सब की धरोहर है और इस धरोहर को धार्मिक और पर्यटन स्थल के रूप में पहचान दिलाने के लिए अमरेश प्रसाद जी के द्वारा किया गया कार्य और योगदान अनमोल और अनुकरणीय है।

मौके पर विकास सिंह, विशाल सिंह, चंदन कुमार, विशाल कुमार पप्पू, चंदन प्रसाद, मनीष प्रसाद, रंजन प्रसाद, संजीत प्रसाद, प्रदेश सिंह, आदित्य प्रसाद, अमित कुमार शुभांग, अरविंद, अविनाश कुमार, सोनू कुमार समेत काफी संख्या में स्थानीय लोग मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *