Breaking :
||पलामू में जन वितरण प्रणाली दुकानदार की गोली मारकर हत्या, पुलिस कर रही जांच||लातेहार: युवक हत्याकांड का खुलासा, भाभी ने ही करा दी देवर की हत्या, दो आरोपी गिरफ्तार||थर्ड रेल लाइन निर्माण कार्य में लगी कंपनी के साइट पर नक्सलियों का उत्पात, फायरिंग कर जेसीबी में लगायी आग||दुर्गा पूजा पर आयोजित कार्यक्रम देख लौट रही नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म||हजारीबाग: तीर्थयात्रियों से भरे बस और ट्रक की सीधी टक्कर में 4 की मौत, 30 घायल||लातेहार: ढाबा चलाने की आड़ में अफीम व डोडा पाउडर बेचने के आरोप में ढाबा संचालक गिरफ्तार||रांची: गैस रिफिलिंग की दुकान में रखे सिलेंडर में हुए विस्फोट से चार दुकानें जलकर राख||चतरा में पुलिस और नक्सलियों के बीच मुठभेड़, भारी मात्रा में सामान और हथियार बरामद||लातेहार: दशहरा व दुर्गा पूजा को लेकर मिठाई व फास्ट फूड दुकानों की हुई जांच, पांच दुकानों पर कार्रवाई, लगा जुर्माना||पलामू सिविल सर्जन 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार, बिल भुगतान के एवज में मांगी थी रिश्वत

बालूमाथ: उड़ती धूल से परेशान ग्रामीणों ने रेलवे साइडिंग में काम रोका

'

लातेहार : बालूमाथ स्थित रेलवे कोल साइडिंग के पास स्थित टेमराबार गांव के ग्रामीणों ने मंगलवार को अपनी मांगों को लेकर रेलवे कोल साइडिंग का काम रोक दिया।

ग्रामीणों ने साइडिंग में कोयला ले जा रहे हाईवे को साइडिंग में प्रवेश करने से रोका। इससे वाहनों की लंबी कतार लग गई।

ग्रामीणों ने इसकी जानकारी देते हुए बताया कि टेमराबार गांव के ग्रामीण साइडिंग में कोयला ले जा रहे वाहनों से उड़ रहे धूल के कणों से परेशान हैं। साइडिंग में काम करने वाली विभिन्न कंपनियों द्वारा पानी का छिड़काव नहीं किया जाता है, जिससे हमेशा धूल उड़ती रहती है।

इसके लिए नियमित रूप से पानी का छिड़काव करना चाहिए। साइडिंग की तरफ से गांव का रास्ता भी यही है। रास्ते में चालक द्वारा कार खड़ी की जाती है। इससे सड़क जाम हो जाती है और ग्रामीणों को आने-जाने में परेशानी होती है।

ग्रामीणों ने सीसीएल व रेल विभाग के अधिकारियों से मांग किया है कि गांव में जाने के लिए ओभर ब्रिज का निर्माण किया जाए। गांव के लोगों के लिए डीएमएफटी फंड से सीसीएल द्वारा विकास कार्य कराए जाए।

खबर लिखे जाने तक कोई भी अधिकारी जाम खुलवाने को लेकर ग्रामीणों से वार्ता करने जाम स्थल पर नहीं पहुंचे थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.