Breaking :
||लातेहार: लापरवाह वाहन चालक हो जायें सावधान! कल से पुलिस चलायेगी जिलेभर में सघन वाहन चेकिंग अभियान||झारखंड की नाबालिग लड़की के साथ अमानवीय व्यवहार करने वालों के खिलाफ मुख्यमंत्री ने दिये सख्त कार्रवाई के आदेश||लातेहार: बालूमाथ में ट्यूशन पढ़ाकर घर लौट रहे शिक्षक की सड़क दुर्घटना में मौत||हेमंत सरकार ने खिलाड़ियों के सर्वांगीण विकास को लेकर की जोहार खिलाड़ी स्पोर्ट्स इंटीग्रेटेड पोर्टल की शुरुआत, खिलाड़ियों की समस्याओं के निराकरण में होगा सहायक||रामगढ़, चतरा व लातेहार में कोयला कारोबारियों पर जानलेवा हमला करने वाले TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, एक लातेहार का||अब राज्य के सरकारी शिक्षकों को ‘लीव मैनेजमेंट मॉड्यूल’ के माध्यम से ही मिलेगी छुट्टी, अन्य माध्यमों से दिये गये आवेदन होंगे रद्द||लातेहार: बालूमाथ में हुई विवाहिता हत्याकांड का खुलासा, चार अभियुक्तों ने मिलकर की थी बेरहमी से हत्या||पलामू: शहर में बिना अनुमति के जुलूस निकालने पर होगी कार्रवाई, रात 10 बजे के बाद डीजे बजाने पर रोक||लातेहार: मवेशियों से लदा ट्रक दुर्घटनाग्रस्त, ग्रामीणों ने एक तस्कर को पकड़ कर किया पुलिस के हवाले, डाल्टनगंज से खरीद कर रांची के मांस कारोबारी को जा रहे थे पहुंचाने||प्रेमिका से वीडियो कॉल पर बात करते प्रेमी ने दे दी जान

पांच चरणों में होगा NH-75 फोर लेन का निर्माण, लातेहार, पलामू और गढ़वा के लोगों को मिलेगी राहत

NH-75 फोर लेन निर्माण

पलामू : भारतमाला परियोजना के तहत अब एनएच-75 को फोर लेन सड़क में बदला जाएगा। वहीं यह सड़क लातेहार, डाल्टनगंज, पलामू, गढ़वा होते हुए उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले के विंढमगंज की सीमा को सीधे स्पर्श करेगी। एनएच-75 के विस्तार से झारखंड की राजधानी रांची के अलावा लातेहार, पलामू और गढ़वा जिलों के लोगों को विशेष राहत मिलेगी। वर्तमान में राँची से कुडू तक NH-75 फोर लेन बनाया गया है।

आपको बता दें, पलामू सांसद बीडी राम एनएच-75 के विस्तार के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। पलामू सांसद विष्णु दयाल राम ने सोमवार को लोकसभा में नियम 377 के तहत कुडू से पलामू संसदीय क्षेत्र, पलामू के दोनों जिलों वाया गढ़वा वाया विंढमगंज से उत्तर प्रदेश के सिवाना तक एनएच-75 के फोर लेन निर्माण का कार्य शुरू करने के संबंध में सोमवार को महत्वपूर्ण बात उठाई। सांसद बीड़ी राम ने कहा कि राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-75 भारतमाला परियोजना का हिस्सा है। यह सड़क रांची-वाराणसी तक फोर लेन की होनी है।

उन्होंने कहा कि दुर्भाग्य से जिस कंपनी को इस सड़क का निर्माण कार्य शुरू में मिला था, उसने इस सड़क का इतना घटिया निर्माण कराया कि आज यह सड़क गड्ढों में बदल गई है। एनएचएआई जहां एक से बढ़कर एक कीर्तिमान स्थापित कर रहा है, वहीं दूसरी ओर एनएच-75 की यह दुर्दशा अविश्वसनीय, अकल्पनीय है। मुझे पता है कि इस पूरे प्रोजेक्ट को 5 चरणों में बनाने की योजना है।

लेकिन, सबसे बड़ा सवाल कब तक हमारे संसदीय क्षेत्र पलामू की जनता को भुगतना पड़ेगा। वर्तमान में इस सड़क पर ओवरलेइंग का कार्य चल रहा है, लेकिन यह पर्याप्त नहीं है।

सांसद ने सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय के मंत्री से उक्त सड़क की जर्जर हालत को देखते हुए संबंधित अधिकारियों को जल्द से जल्द निर्देश देने का अनुरोध किया है ताकि एनएच 75 के फोरलेन का निर्माण कार्य जल्द शुरू हो सके।

आपको बता दें, एनएच 75 फोर लेन का निर्माण कुल पांच चरणों में होगा। इसका पांचवां चरण खजूरी से विंढमगंज तक है। वहीं चौथे चरण में पलामू जिले के शंखा से गढ़वा जिले के खजूरी तक बाईपास रोड है। चौथे चरण के बायपास में बहुत तेजी से काम चल रहा है। बाइपास का निर्माण कार्य मार्च 2023 तक पूरा कर लिया जाएगा। इसके बाद क्रमश: तीसरे, दूसरे और पहले चरण का काम किया जाएगा। एनएच 75 फोरलेन के तीसरे चरण में शंखा से भोगू तक, दूसरे चरण में भोगू से लातेहार के उदयपुरा तक और पहले चरण में उदयपुरा से कुडू तक सड़क का निर्माण शामिल है।

NH-75 फोर लेन निर्माण