Breaking :
||सीएम हेमंत सोरेन की नहीं होगी गिरफ्तारी, ईडी के पास कोई पुख्ता सबूत नहीं||झारखंड से कोरोना की विदाई, सभी जिले कोरोना मुक्त घोषित||झारखंड: प्रमाण पत्र सत्यापन नहीं कराने वाले सहायक अध्यापक होंगे कार्यमुक्त||झारखंड में Suo-Moto Online Mutation की ऐतिहासिक शुरुआत, अब जमीन रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन के लिए नहीं देना पड़ेगा आवेदन||झारखंड प्रशासनिक सेवा के 14 अधिकारियों को मिली अपर सचिव के पद पर पदोन्नति||लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या||लातेहार: आदिवासी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में आदिवासी की मौत के बाद नहीं मिली एंबुलेंस, ठेले पर ले गया शव||पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार||चतरा में भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर ने किया पुलिस के सामने सरेंडर||लातेहार: सात दिन पूर्व दफनाये गये शव को महुआडांड़ पुलिस ने कब्र से निकलवाया, हत्या की आशंका

पलामू ACB की टीम ने मुखिया को रिश्वत लेते रंगेहाथ पकड़ा

पलामू एसीबी की टीम ने शुक्रवार की दोपहर श्री बंशीधर नगर प्रखंड अंतर्गत कोलझिकी पंचायत के मुखिया अजय प्रसाद गुप्ता को 15 हजार रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार श्री बंशीधर नगर प्रखंड अंतर्गत कोलझिकी पंचायत के मुखिया अजय प्रसाद गुप्ता आंगनबाड़ी केंद्र से जुड़े एक व्यक्ति से रिश्वत की मांग कर रहे थे। जिसके बाद उस व्यक्ति ने इसकी जानकारी एसीबी को दी। एसीबी ने मामले की गहनता से जांच की। जांच में सही पाए जाने के बाद एसीबी ने टीम गठित कर यह कार्रवाई की है।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

जानकारी के अनुसार गढ़वा से लौटते समय मुखिया ने रमना से फोन कर उस व्यक्ति से 15 हजार रुपये रिश्वत की मांग की थी। वह जैसे ही रुपये लेकर मुखिया को देने पहुंचा एसीबी की टीम ने रमना बस स्टैंड स्थित सर्वेश्वरी चौक के पास से मुखिया को 15 हजार रुपये लेते रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया।

रंगे हाथों पकड़े जाने के बाद मुखिया ने रुपये फेंककर शोर मचाना शुरू कर दिया। शोर सुनकर लोगों की भीड़ बढ़ने लगी। लोगों की भीड़ देख एसीबी भी कुछ देर के लिए अचकचा गयी। हालांकि एसीबी की टीम अजय प्रसाद गुप्ता को अपनी गाड़ी में बिठाकर मेदिनीनगर ले जाने में सफल रही। गिरफ्तारी के बाद रिश्वत लेने वालों में हड़कंप मच गया है।