Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
पलामू प्रमंडल

पलामू: नर्सिंग होम में मरीज की मौत के बाद डॉक्टर शव को घर के बाहर फेंक कर भागा, परिजनों ने किया हंगामा

पप्पू कुमार / मेदिनीनगर

पलामू : विश्रामपुर के डंडिला गांव स्थित पॉपुलर नर्सिंग होम में डॉक्टर की लापरवाही से एक महिला की कथित तौर पर मौत हो गई।

मृतक चिंता देवी (35 वर्ष) रेहला थाना क्षेत्र के रक्साहा गांव निवासी ललन चौधरी की पत्नी थी। चिंता देवी की मौत के बाद परिजनों ने नर्सिंग होम के सामने हंगामा किया।

क्या है पूरा मामला

बताया गया कि ललन चौधरी की पत्नी के पेट में दर्द हुआ करता था। वह इलाज के लिए पॉपुलर नर्सिंग होम गई थी। जहां डॉक्टरों ने उसे बताया कि अपेंडिक्स और पेट में गर्भाशय में सूजन है। जिसके लिए ऑपरेशन करना होगा। पिछले 12 मई को चिंता देवी को नर्सिंग होम में भर्ती कराया गया। जहां डॉक्टरों ने उसका ऑपरेशन किया। सोमवार को चिंता देवी की हालत बिगड़ने लगी। अंतत: दोपहर 2 बजे उसकी मौत हो गई।

परिजनों का आरोप है कि चिंता देवी की मौत के बाद पॉपुलर नर्सिंग होम के संचालक डॉ वकील अंसारी शव को अपनी कार में लेकर मृतका के घर पहुंचे और बाहर फेंक कर भाग गए। जिसके बाद गुस्साए परिजन व ग्रामीण फिर शव लेकर नर्सिंग होम पहुंचे। जहां ग्रामीणों और परिजनों ने हंगामा किया।

सूचना मिलने पर रेहला थाना प्रभारी नेमधारी रजक पुलिस बल के साथ नर्सिंग होम पहुंचे। इस संबंध में मृतका के पति ललन चौधरी ने थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने का आवेदन दिया है।

इधर, हंगामा का नेतृत्व कर रहे कांग्रेस नगर अध्यक्ष ऋषि पांडेय, निवर्तमान पार्षद राजकुमार चौधरी, पूर्व पार्षद भरदुल चौधरी और युवा समाजसेवी राहुल ठाकुर ने मृतक के परिजनों को मुआवजा देने की मांग की है। राहुल ठाकुर ने बताया कि मृतक के तीन नाबालिग बच्चे हैं। इसके रखरखाव के लिए मुआवजा जरूरी है।