Breaking :
||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश||लातेहार: बालूमाथ में अज्ञात वाहन की चपेट में आने से एक बाइक सवार की मौत, दो की हालत गंभीर||लातेहार: माओवादियों की बड़ी साजिश नाकाम, बरवाडीह के जंगल से आठ आईईडी बम बरामद||गुमला में लूटपाट करने आये चार अपराधी हथियार के साथ गिरफ्तार||रांची में वाहन चेकिंग के दौरान भारी मात्रा में कैश बरामद||लोहरदगा में धारदार हथियार से गला रेतकर महिला की हत्या
Wednesday, April 17, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरकोल्हान प्रमंडलझारखंड

झारखंड: मुखबिरी के शक में नक्सलियों ने की अपने पूर्व साथी की हत्या

पश्चिमी सिंहभूम : चाईबासा में नक्सलियों ने अपने ही एक पुराने साथी की हत्या कर दी। नक्सलियों को शक था कि वह संगठन के राज पुलिस तक पहुंचा रहा था। मृतक का नाम नेल्शन भेंगरा है। वह सारंडा जंगल क्षेत्र के जराईकेला थाना अन्तर्गत समठा गांव का रहे वाला था। वह लंबे समय तक नक्सल गतिविधियों में शामिल रहा। मई 2023 में एक सड़क निर्माण कंपनी से लेवी मांगने के आरोप में जेल में बंद था। दो माह पहले ही वह जेल से बाहर आया था।

मृतक की पत्नी के मुताबिक नेल्शन घर से करीब पांच सौ मीटर की दूरी पर स्थित एक निर्माणाधीन पुल साइट पर नाइट गार्ड का काम करता था। मंगलवार की शाम करीब सात बजे घर से खाना खाने के बाद ड्यूटी करने के लिए चला गया। सुबह घर से करीब दो सौ मीटर की दूरी पर पेड़ के पास उसके पति का शव पड़ा हुआ देखा, जहां पोस्टर रखा हुआ था। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

नेल्शन भेंगरा ना सिर्फ झारखंड बल्कि दूसरे राज्यों में भी नक्सल गतिविधियों में शामिल रहा। ओडिशा की बिसरा थाना पुलिस ने मई 2023 में एक सड़क निर्माण कंपनी से नक्सलियों के नाम पर लेवी मांगने के आरोप में उसे गिरफ्तार किया था। दो महीने के अंदर ही वह जेल से बाहर आ गया था। इसके बाद वह पुलिस के संपर्क में थे।

Jharkhand naxal activity news