Breaking :
||पलामू में बिजली गिरने से तीन किशोर की मौत, बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छिपे थे||रांची में करंट लगने से एक ही परिवार के तीन लोगों की मौत, तिरंगा लगाने के दौरान हुआ हादसा||15 अगस्त को झारखंड के 26 पुलिसकर्मियों को विभिन्न सेवाओं के लिए मेडल||रांची में नकली नोटों के तस्कर को पकड़ने गई दिल्ली पुलिस पर ग्रामीणों ने किया हमला, बनाया बंधक||झारखंड जल्द होगा सूखाग्रस्त घोषित, सभी मापदंडों पर तैयार हो रही रिपोर्ट||लातेहार: विद्यालय से उर्दू शब्द हटाए जाने पर मुस्लिम समुदाय में आक्रोश, किया प्रदर्शन||मुख्य धारा में लौटे नक्सलियों के सम्मान समारोह में अधिकारियों ने कहा- सरकार की सेरेंडर पॉलिसी का लाभ उठाएं नक्सली||लातेहार : खेत में धान बो रहे किसान पर गिरी बिजली, पति-पत्नी की मौके पर ही मौत||झारखंड भाजपा को मिलेगा नया प्रदेश अध्यक्ष, नियुक्ति को लेकर कई नामों पर चर्चा||अब झारखंड के बिजली उपभोक्ताओं को मिलेगी 100 यूनिट मुफ्त बिजली

पंचखेरो डैम हादसा: डूबे सभी 8 लोगों के निकाले गए शव, NDRF ने 40 घंटे तक चलाया रेस्क्यू ऑपरेशन

'

कोडरमा: मरकच्चो के पंचखेरो बांध में रविवार को नाव दुर्घटना में शामिल सभी 8 लोगों के शव निकाल लिए गए हैं। एनडीआरएफ की टीम ने मंगलवार सुबह दो बच्चों के शव निकाले। घटना के करीब 40 घंटे बाद इन दोनों शवों को निकाला जा सका। इससे पहले सोमवार को 6 शव निकाले गए थे। मंगलवार सुबह दोनों बच्चों में मृतक सीताराम यादव का बेटा हर्षल कुमार उम्र 8 साल और बेटी सक्षम उर्फ छोटी कुमारी उम्र 4 साल शामिल है। NDRF की टीम बिना रुके लगातार तलाशी अभियान में लगी हुई थी। इस दौरान सोमवार दोपहर दो बजे तक छह शव निकाले गए। लेकिन अन्य दो बच्चों के शव नहीं मिल सके।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

ऑपरेशन सोमवार शाम को बंद कर दिया गया और मंगलवार सुबह शुरू किए गए एक ऑपरेशन में दोनों शव बरामद किए गए। इससे पहले सीताराम यादव (40) और सेजल कुमारी (16), पलक कुमारी (14), अमित कुमार सिंह (14), राहुल कुमार (16) और शिवम कुमार (17) के शव मिले थे। यह घटना उस समय हुई जब गिरिडीह जिले के राजधनवार प्रखंड अंतर्गत खेतो गांव के लोग रविवार को पंचखेरो बांध देखने आए थे और नाव की सवारी कर रहे थे। इस दौरान नाव में पानी भर जाने से सभी लोग डूबने लगे। नाव डूबने के बाद नौ लोगों में से एक ही प्रदीप सिंह तैर सका, जो घूमने आए थे, बाकी सभी डूब गए। वहीं नाविक भी बाहर निकलकर फरार हो गया।

मरकच्चो के पचखेरो बांध में नाव दुर्घटना को लेकर मरकच्चो थाने में मामला दर्ज किया गया है। थाने के खेतो निवासी प्रदीप कुमार सिंह ने आवेदन में बताया है कि ’17 जुलाई को सुबह साढ़े आठ बजे वह पंचखेरो बांध के दर्शन करने निकले थे. हमारे दौरे के दौरान नाबालिग नाविक हमसे मिला और हम सभी को नाव पर चढ़ने के लिए कहा। नाविक की बात पर वह घूमने के लिए नाव पर चढ़ गया। नाव बीच में पहुँची तो नाव में पानी भरने लगा तो हमने कहा कि नाव को वापस ले लो लेकिन नाविक नाव को वहीं छोड़ कर भाग गया। आवेदन में यह भी लिखा गया है कि नाविक की लापरवाही से सभी लोगों की मौत हुई है।