Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

कांग्रेस सांसद धीरज प्रसाद साहू के ठिकानों से मिला ‘कुबेर का खजाना’, नोट इतने कि मशीनों ने काम करना किया बंद

रांची : झारखंड से कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज प्रसाद साहू के ठिकानों पर इनकम टैक्स की छापेमारी के बाद ‘कुबेर का खजाना’ मिला है। यह स्पष्ट नहीं है कि राज्यसभा सांसद सह वरिष्ठ कांग्रेस नेता धीरज प्रसाद साहू के ठिकानों पर कितनी नकदी मिली है।

Dheeraj Prasad Sahu income tax raid

सूत्रों का कहना है कि रकम 100 करोड़ रुपये से ज्यादा है। नोटों से भरी एक अलमारी मिली जिसे देखने से ऐसा लग रहा था जैसे वह किसी बैंक की तिजोरी हो। नकदी की कुल रकम अभी सामने नहीं आयी है। नोटों की गिनती अभी भी जारी है। यह नकदी बुधवार को सांसद के रांची और लोहरदगा स्थित आवास समेत पांच ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी में बरामद की गयी।

धीरज प्रसाद साहू वर्तमान में राज्यसभा सांसद हैं। वह उद्योगपति राय साहब बलदेव साहू के बेटे हैं। धीरज रांची से लोकसभा सांसद दिवंगत शिव प्रसाद के भाई हैं। 23 नवंबर 1959 को छोटानागपुर में जन्मे धीरज का पैतृक घर लोहरदगा में है। धीरज तीन बार राज्यसभा सांसद हैं। वह जून 2009 में पहली बार राज्यसभा सांसद बने। वह जुलाई 2010 में दूसरी बार और 2018 में तीसरी बार उच्च सदन पहुंचे। वह संसद की कई समितियों के सदस्य रहे हैं। साहू ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत 1977 में कांग्रेस के छात्र संगठन ASUI से की थी।

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू से जुड़े तीन राज्यों के आधा दर्जन ठिकानों पर बुधवार को शुरू हुई इनकम टैक्स की छापेमारी आज भी जारी है। आयकर सूत्रों के मुताबिक, ठिकानों से 100 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम बरामद हुई है। कल तक 50 करोड़ रुपये के नोटों की गिनती पूरी हो चुकी थी, लेकिन नोटों की संख्या इतनी ज्यादा थी कि मशीनों ने काम करना बंद कर दिया। आज सुबह से ही गिनती जारी है। मिली जानकारी के मुताबिक संबलपुर के कुछ बैंक खाते भी सीज कर दिये गये हैं।

धीरज साहू के रिश्तेदारों के नाम पर ओडिशा में शराब का बड़ा कारोबार है। बौध डिस्टिलरी प्रा. लिमिटेड आयकर अधिकारी बीडीपीएल से जुड़े बलांगीर, रायगढ़ और संबलपुर डिस्टिलरी प्लांट भी पहुंचे और दस्तावेजों की जांच की। जहां भी बीडीपीएल की डिस्टिलरी और बॉटलिंग प्लांट हैं, वहां विभाग के अधिकारी दस्तावेजों की जांच कर रहे हैं। इसके अलावा टीम रांची और लोहरदगा आवास पर भी पहुंची, लेकिन वहां परिवार का कोई सदस्य नहीं मिला।

Dheeraj Prasad Sahu income tax raid