Breaking :
||भाजपा प्रदेश प्रवक्ता का इंडी गठबंधन पर हमला, कहा- कोड वर्ड के जरिये बेच दिया झारखंड को||टेंडर कमीशन देने में पांकी के ठेकेदार का भी नाम : शशिभूषण मेहता||टेंडर घोटाले की जांच में पूर्व मंत्री आलमगीर आलम नहीं कर रहे सहयोग : ED||पांचवें चरण में 63.21 फीसदी वोटिंग, पुरुषों से ज्यादा रही महिलाओं की भागीदारी||गढ़वा: शादी समारोह में शामिल होने जा रही मां-बेटी की सड़क हादसे में मौत, बेटा और बेटी की हालत नाजुक||झारखंड: स्कूलों में शत प्रतिशत नामांकन को लेकर राज्य शिक्षा परियोजना गंभीर, लापरवाही बरतने पर होगी कार्रवाई||टेंडर कमीशन घोटाला मामला: ED ने अब IAS मनीष रंजन को पूछताछ के लिए बुलाया||मतदान केंद्र में फोटो या वीडियो लेना अपराध, की जा रही है कार्रवाई : मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी||लातेहार: बालूमाथ में बाइक दुर्घटना में एक युवक की मौत, दूसरा गंभीर, रिम्स रेफर||गढवा: डोभा में नहाने के दौरान डूबने से JJM नेता के पोते समेत दो किशोरों की मौत
Thursday, May 23, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामूपलामू प्रमंडल

पलामू: मुख्यमंत्री के सामने राजद नेताओं ने किया हंगामा, मंच पर स्थान नहीं मिलने से थे नाराज

पलामू : जिला मुख्यालय मेदिनीनगर के पुलिस लाइन स्टेडियम में मंगलवार को सरकार के रोजगार मेले में मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन की मौजूदगी में सत्तारुढ़ दलों के स्थानीय नेताओं को मंच पर स्थान नहीं दिये जाने पर राष्ट्रीय जनता दल के नेताओं ने हंगामा किया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार मंच पर मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन, मंत्री आलमगीर आलम, सत्यानंद भोक्ता के अलावा विधायक रामचंद्र सिंह एवं बैद्यनाथ राम पर मंचासीन थे। इस बीच नेताओं का एक झोंका मंच पर चढ़ने एवं बैठने के लिए आगे बढ़ा तो मेला के लिए प्रतिनियुक्त पुलिस बल ने उसे रोक दिया, जिससे हंगामा हुआ।

इस हंगामे को देख जब मंच से तेजी से पुलिस अधीक्षक रीष्मा रमेशन हंगामा स्थल पर पहुंची तब माहौल शांत हो सका। राजद के जिला अध्यक्ष मोहन विश्वकर्मा सहित अन्य पार्टी नेता हंगामा करते नजर आये। राजद जिला अध्यक्ष का कहना था कि मंच पर उन्हें स्थान नहीं दिया गया। बाद में झारखंड मुक्ति मोर्चा, कांग्रेस तथा राष्ट्रीय जनता दल के चुनींदे दलीय पदाधिकारियों को मंच पर सम्मान पूर्वक स्थान दिया गया। इस हंगामे को मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन धैर्यपूर्वक देखते रहे।

एसपी रमेशन ने बताया कि यह सरकारी आयोजन है और बगैर ऊपरी आदेश के कोई कदम नहीं उठाया जा सकता। निर्धारित प्रक्रिया के मुताबिक ही यह आयोजन संचालित है।

Palamu Latest News Today