Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Thursday, June 13, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलातेहार

बरवाडीह: पुलिस बनकर आये लोगों ने की गाली-गलौज व मारपीट, एसपी से कार्रवाई की मांग

People who came as police

लातेहार : बरवाडीह प्रखंड के लेदगाई ग्राम निवासी राजेश यादव पिता स्व नंदकिशोर यादव ने पुलिस बनकर आये लोगों पर गाली गलौज व मारपीट करने का आरोप लगाया है। इस संबंध में भुक्तभोगी राजेश यादव ने एसपी अंजनी अंजन को आवेदन देकर कार्रवाई की मांग की है।

दिए गए आवेदन में भुक्तभोगी ने बताया है कि शनिवार की सुबह करीब 9:30 बजे तीन मोटरसाइकिल से छह की संख्या में आये लोग अपने को पुलिस बताते हुए मेरे भाई दिनेश यादव को ढूंढ रहे थे।

इसी क्रम में मुझसे भी पूछताछ की गई। मैंने बताया कि वह घर में नहीं है। इसके बाद उन लोगों ने गंदी-गंदी गालियां देते हुए मेरा कॉलर पकड़ लिया और मेरे साथ मारपीट की।

आवेदन में आगे बताया है कि इस दौरान उन लोगों ने कहा कि सभी परिवार वालों को उग्रवादी केस में फंसा देंगे। ऐसा कहते हुए मेरी मां और पत्नी को भी गाली गलौज करते हुए धमकाया गया।

इस घटना के बाद से मैं और मेरा पूरा परिवार दहशत में हैं और मेरी मां का मानसिक संतुलन भी बिगड़ गया है।

आवेदन के अंत में भुक्तभोगी ने एसपी से जांच के उपरांत न्यायोचित कार्रवाई करने की मांग की है। आवेदन में भुक्तभोगी समेत तीन दर्जन से अधिक ग्रामीणों के हस्ताक्षर हैं।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *