Breaking :
||लोहरदगा में हथियार के साथ एक गिरफ्तार, एक भागने में सफल, भारी मात्रा में हथियार व गोलियां बरामद||सीएम हेमंत सोरेन का ऐलान, नेतरहाट फील्ड फायरिंग रेंज होगी रद्द, ग्रामीण 30 साल से कर रहे थे आंदोलन||कोलकाता हाईकोर्ट ने कांग्रेस के तीनों विधायकों को दी सशर्त अंतरिम जमानत||लातेहार: फिर एक महिला ने इलाज के बहाने डॉक्टर पर लगाया छेड़खानी का आरोप||बिहार में नीतीश कैबिनेट का विस्तार, 31 मंत्रियों ने ली शपथ, तेज प्रताप फिर बने मंत्री||DGP नीरज सिन्हा ने कहा- पिछले तीन साल में 1,526 नक्सली गिरफ्तार, 51 मारे गये||जम्मू-कश्मीर में जवानों से भरी बस खाई में गिरी, 7 जवान शहीद, 32 घायल, राष्ट्रपति ने व्यक्त की संवेदना||JPSC के पूर्व अध्यक्ष IPS अमिताभ चौधरी का हार्ट अटैक से निधन||लातेहार: पीटीआर के गारू पूर्वी वन क्षेत्र में हाथी की मौत, पोस्टमार्टम के लिए पहुंची मेडिकल टीम||पलामू में बिजली गिरने से तीन किशोर की मौत, बारिश से बचने के लिए पेड़ के नीचे छिपे थे

ग्रामीणों ने सड़क निर्माण करा रही कंपनी पर लगाया बगैर जानकारी दिये भूमि अधिग्रहण का आरोप, आक्रोश

'

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : बरवाडीह स्टेशन के चमरडीहा रेल फाटक से हुटार तक हो रहे सड़क निर्माण और चौड़ीकरण निर्माण कार्य में लगी कंपनी पर रैयतों को बगैर जानकारी दिये भूमि अधिग्रहण कर निर्माण कार्य शुरू करने का आरोप लगाया है। बुधवार को ग्रामीणों ने अंचलाधिकारी राकेश सहाय से मुलाकात कर इस बात की शिकायत की है।

मामले को लेकर ग्रामीणों ने सांसद प्रतिनिधि कन्हाई प्रसाद, पूर्व मुखिया हुलास सिंह, सेवानिवृत्त रेल अधिकारी रामचंद्र राम के नेतृत्व में अंचलाधिकारी से मुलाकात की और कहा कि सड़क निर्माण कार्य करा रही कंपनी और संवेदक के द्वारा अब तक ग्रामीणों की जमीन अधिग्रहण करने को लेकर किसी भी तरह की कोई ग्रामसभा और जानकारी नहीं दी गई है।

साथ ही कितनी भूमि अधिग्रहण की जाएगी और उसकी क्या प्रक्रिया होगी, उसको लेकर भी किसी भी तरह की सूचना दिये बगैर कंपनी के द्वारा निर्माण कार्य किया जा रहा है। इस कार्य में ग्रामीणों की काफी जमीन अधिग्रहण हो रही है, जो नियम संगत नही है।

मौके पर अंचलाधिकारी ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि सड़क का निर्माण कार्य आम जनों की सुविधा के लिए हो रही है। सभी रैयतों को इसकी जानकारी देते हुए पूरी पारदर्शिता से निर्माण कार्य कराया जाएगा ।जिसको लेकर जल्द ही संबंधित विभाग के अधिकारियों से बात कर भूमि अधिकरण करने की कार्रवाई पूरी कराते हुए मुआवजा दिलाने का कार्य भी किया जाएगा।

इस दौरान कमलेश कुमार, उमेश प्रसाद, सत्येंद्र कुमार समेत काफी संख्या में स्थानीय ग्रामीण मौजूद थे।


Leave a Reply

Your email address will not be published.