Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलातेहार

बाहरी लोगों को अब नहीं बनाने देंगे झारखंड को चारागाह : हेमंत

Khatiani Johar Yatra in Latehar

लातेहार में मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की खतियानी जोहार यात्रा

लातेहार : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने लातेहार खेल स्टेडियम में मंगलवार को खतियानी जोहार यात्रा कार्यक्रम को संबोधित करते हुए केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि केंद्र की सरकार व्यापारियों की सरकार है। यह सरकार अपने व्यापारिक मित्रों को लाभ देने के लिए योजनाएं बनाती है। केंद्र सरकार को गरीबों, दलितों, पिछड़ों और आदिवासियों के विकास से कोई मतलब नहीं है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

उन्होंने कहा कि झारखंड के बाहर के कुछ लोग झारखंड के लोगों को सत्ता में देखना ही नहीं चाहते। राज्य गठन के बाद सबसे पहले एक आदिवासी को मुख्यमंत्री बनाया गया लेकिन उन्हें पांच साल का कार्यकाल पूरा नहीं करने दिया गया। इसके बाद अर्जुन मुंडा आए लेकिन उन्हें भी कार्यकाल पूरा नहीं करने दिया गया। झारखंड में पहली बार पांच साल का कार्यकाल पूरा करने वाले मुख्यमंत्री छत्तीसगढ़ के नेता थे।

Khatiani Johar Yatra Latehar
Khatiani Johar Yatra in Latehar

उन्होंने कहा कि आखिर क्या कारण है कि जो लोग गुजरात महाराष्ट्र और अन्य दूसरे राज्यों में शासन कर रहे हैं वह इलाका विकसित हो गया लेकिन वही लोग जब झारखंड आते हैं तो झारखंड का विकास नहीं हो पाता। इनकी मानसिकता हमेशा ही झारखंड को पिछड़ा रखना है ताकि यहां की संपत्ति से वह लोग अपनी तिजोरी भर सके लेकिन अब झारखंड की जनता जाग चुकी है। बाहरी लोगों को अब झारखंड को चारागाह नहीं बनाने दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने अपनी उपलब्धियां गिनाते हुए कहा कि जब से झारखंड में बहुमत वाली यूपीए की सरकार बनी है तब से झारखंड के लोगों का सपना पूरा हो रहा है। हमने तीन वर्षों के कार्यकाल में ही वह कार्य किए हैं जो पिछले 20 वर्षों में नहीं हुए थे। पूर्व के सरकार में हमारे गरीबों के घर में अनाज नहीं होता था और वह भात-भात करते हुए मर जाते थे। ऐसी स्थिति में पूर्ववर्ती सरकार ने 11 लाख लोगों के राशन कार्ड को रद्द कर दिया था लेकिन हमारी सरकार आते ही 20 लाख गरीबों को राशन कार्ड उपलब्ध कराया गया।

सोरेन ने कहा कि हमने झारखंड के प्रत्येक वृद्धों को पेंशन दिया। प्रत्येक विधवाओं को पेंशन दिया। सरकारी नौकरी करने वाले लोगों को पुरानी पेंशन का लाभ दिया। यहां के बेरोजगार युवकों को रोजगार के लिए बैंकों से मुख्यमंत्री सृजन रोजगार योजना के तहत ऋण उपलब्ध करवाया। छात्रों को उचित शिक्षा देने के लिए बेहतर माहौल तैयार करवाया।

उन्होंने कहा कि हमारी एक ही सोच है कि झारखंड में भी स्थानीय नीति लागू होता ताकि यहां के मूल वासियों को रोजगार मिल सके। इसके लिए हमने 1932 का खतियान के आधार पर स्थानीय नीति लागू करवाने की पहल की लेकिन विपक्षियों को यह असंवैधानिक लगने लगा। राज्यपाल के द्वारा इसमें अड़ंगा लगाकर वापस लौटा दिया गया जबकि दूसरे राज्यों में यही नीति विपक्षियों के द्वारा लागू की गई है। उन्होंने कहा कि विपक्षियों का एक ही मकसद है कि किसी भी तरह से झारखंड को गरीब ही रहने दिया जाए ताकि यहां की संपत्ति को आसानी से लूटा जा सके।

श्रम मंत्री सत्यानंद भोक्ता ने कहा कि अब समय आ गया है कि जो लोग देश को लूटना चाहते हैं उन्हें झारखंड से खदेड़ना होगा। वर्तमान समय में झारखंड जिस प्रकार विकास के मामले में आगे बढ़ रहा है यदि इसी प्रकार का माहौल रहा तो हमारा राज्य शीघ्र ही देश के बड़े राज्यों में शामिल हो जाएगा। कार्यक्रम को स्थानीय विधायक वैद्यनाथ राम, मनिका विधायक रामचंद्र सिंह, बड़कागांव विधायक अंबा प्रसाद समेत अन्य लोगों ने भी कार्यक्रम में संबोधित किया।

कार्यक्रम का संचालन जिला अध्यक्ष लाल मोती नाथ शाहदेव ने किया। इस अवसर पर जिला 20 सूत्री उपाध्यक्ष अरुण कुमार दुबे, कांग्रेस जिला अध्यक्ष मुनेश्वर उरांव, राजद जिला अध्यक्ष रामप्रवेश यादव, झामुमो नेता रंजन रिंकू कच्छप समेत अन्य लोग उपस्थित थे।

इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने लातेहार और चतरा जिले के सभी अधिकारियों के साथ लातेहार पुलिस लाइन में एक बैठक कर विकास योजनाओं की समीक्षा की। बैठक में उन्होंने अधिकारियों को स्पष्ट रूप से कहा कि योजनाओं को अंतिम व्यक्ति तक पहुंचाना प्रत्येक अधिकारी का कर्तव्य है।

Khatiani Johar Yatra Latehar