Breaking :
||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक||बड़ी खबर: 25 लाख के इनामी समेत 29 नक्सली ढेर, तीन जवान घायल||पलामू: महुआ चुनकर घर जा रही नाबालिग से भाजपा मंडल अध्यक्ष ने किया दुष्कर्म, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस||झामुमो केंद्रीय समिति सदस्य नज़रुल इस्लाम ने मोदी को जमीन में 400 फीट नीचे गाड़ने की दी धमकी, भाजपा प्रवक्ता ने कहा- इंडी गठबंधन के नेता पीएम मोदी के खिलाफ बड़ी घटना की रच रहे साजिश
Sunday, April 21, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडलमहुआडांड़लातेहार

लातेहार: माओवादियों का सक्रिय सदस्य गिरफ्तार, खोले कई राज

लातेहार : जिले की महुआडांड थाना पुलिस ने गुरुवार को माओवादियों के सक्रिय सदस्य विशेश्वर कोरवा को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। वह थाना क्षेत्र के अक्सी पंचायत के सेंबरखांड़ गांव का रहने वाला है। पुलिस ने उसे महुआडांड़ बाजार जाते समय सरनाडीह गांव के पास से गिरफ्तार किया है।. पूछताछ में उसने कई राज खोले हैं। जिसके आधार पर पुलिस आगे की कार्रवाई कर रही है।

विशेश्वर कोरवा

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

थाना प्रभारी आशुतोष यादव ने बताया कि वह माओवादी मृत्युंजय भुइयां के दस्ते का सक्रिय सदस्य था। वर्ष 2015 में जब मृत्युंजय भुइयां अपने गांव आया था तो वह संगठन से जुड़ गया था।

उन्होंने बताया कि विशेश्वर कोरवा छत्तीसगढ़ के जलजली गांव, महुआडांड के उरुंबी गांव, पेरवा, तिसिया, सेंबरखाड़, नेतरहाट थाना क्षेत्र के आधे और किरगी सहित कई जंगलों में रहकर लेवी वसूलने की घटनाओं में शामिल रहा है। वर्ष 2022 में जब बुढ़ा पहाड़ क्षेत्र के नावाडीह, तिसिया व गढ़वा में पुलिस पिकेट का निर्माण कार्य शुरू हुआ तो मृत्युंजय भुइयां व उसके दस्ता सदस्य क्षेत्र से भाग गये। विशेश्वर कोरवा दस्ते को छोड़कर छत्तीसगढ़ के समारीपाठ में छिपा हुआ था।

छापामारी अभियान में थाना प्रभारी आशुतोष यादव के अलावा एसआई संजय रत्न व जफर तथा थाना पुलिस बल के जवान शामिल थे.

छापेमारी अभियान में थाना प्रभारी आशुतोष यादव के अलावा एसआई संजय रत्न, जफर समेत पुलिस बल के जवान शामिल थे।

Latehar mahuadanr news