Breaking :
||भाजपा की मोटरसाइकिल रैली पर पथराव, कार्यकर्ताओं के साथ मारपीट, कई घायल||झारखंड की तीन लोकसभा सीटों पर चुनाव प्रचार थमा, 20 मई को वोटिंग||पिता के हत्यारे बेटे की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त बंदूक बरामद समेत पलामू की तीन ख़बरें||चतरा लोकसभा क्षेत्र के नक्सल प्रभावित इलाके में नौ बूथों का स्थान बदला, जानिये||झारखंड हाई कोर्ट में 20 मई से ग्रीष्मकालीन अवकाश||पलामू: हार्डकोर इनामी माओवादी नीतेश के दस्ते का सक्रिय सदस्य गिरफ्तार||लातेहार: 65 हेली ड्रॉपिंग बूथ के लिए शुभकामनायें लेकर मतदान कर्मी रवाना||KIDZEE लातेहार के बच्चों ने मतदाताओं से की अपील- पहले मतदान, फिर कोई काम||पलामू में शौच के लिए निकली नाबालिग से सामूहिक दुष्कर्म, चार आरोपी गिरफ्तार||लातेहार अनुमंडल क्षेत्र में चुनाव के मद्देनजर चार जून तक धारा 144 लागू
Sunday, May 19, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरबालूमाथलातेहार

एएनएम ने गर्भपात कराने के नाम पर मांगे 5 हजार रुपये, नहीं देने पर पेशेंट को दो घंटे अस्पताल में ही रोका

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : बालूमाथ थाना क्षेत्र के सेरेगड़ा निवासी नरेश शर्मा ने लातेहार उपायुक्त अबु इमरान को आवेदन देकर बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कार्यरत एएनएम रीना कुमारी पर गर्भपात कराने के एवज में 5 हजार रुपये मांगने का आरोप लगाया है।

आवेदन में कहां है कि चिकित्सकों के सलाह पर मैं अपनी बेटी का गर्भपात कराने बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचा। जहां ड्यूटी पर तैनात एएनएम रीना कुमारी प्रसव रूम के अंदर ले गई और अधूरा गर्भपात करने के बाद बाहर आकर कर बोली कि 5000 हजार रुपये दोगे तो पूरा करूंगी अन्यथा छोड़ दूँगी।

आनन-फानन में नरेश शर्मा ने 2 हजार रुपये एएनएम को दिया एवं 1 हजार रुपये और देने की आरजू विनती की।

गर्भपात कराने के बाद एएनएम ने मानवता को शर्मसार करते हुए 1 हजार रुपये की और मांग की। पैसा नहीं देने के एवज में पेशेंट को 2 घंटे अस्पताल में ही रोके रखा।

नरेश शर्मा इसकी शिकायत उपायुक्त को लिखित रूप से कर दी उपायुक्त के निर्देश पर जिला परिवहन पदाधिकारी संतोष कुमार सिंह ने संज्ञान लेते हुए बालूमाथ प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अशोक ओड़िया को जांच कर अभिलंब जांच प्रतिवेदन सौंपने को कहा है।

इस संबंध में एएनएम रीना कुमारी ने कहा कि मुझे पेसेंट स्वेच्छा से 500 रुपये दिया था। मैंने पैसे की कोई मांग नहीं की।

वही प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अशोक ओड़िया ने कहा कि जब मैं जांच करने पहुंचा तो मरीज अस्पताल से जा चुका था।

वहीं जिला परिवहन पदाधिकारी संतोष कुमार सिंह ने कहा कि जांच रिपोर्ट आने के बाद दोषियों पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *