Breaking :
||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 28 फरवरी को आयेंगी रांची, सुरक्षा के रहेंगे कड़े इंतजाम||झारखंड: अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर युवती से किया दुष्कर्म, धर्म परिवर्तन कराकर जबरन करा दी शादी||लातेहार: बालूमाथ में लोडेड देशी पिस्टल के साथ दो युवक गिरफ्तार, कार जब्त||पीएम मोदी ने समुद्र में लगायी डुबकी, जलमग्न कृष्ण की नगरी द्वारका को देखा||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल
Monday, February 26, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ में बालश्रम के खिलाफ चलाया गया अभियान, तीन बालश्रमिकों को कराया मुक्त

Balumath Latehar Latest News

लातेहार : उपायुक्त के निर्देशानुसार बुधवार को बालूमाथ प्रखंड क्षेत्र स्थित गैर-लाभकारी संस्थाओं, होटलों, ढाबों व प्रतिष्ठानों आदि में बाल श्रम के खिलाफ अभियान चलाया गया। इस दौरान सभी नियोक्ताओं को बाल एवं किशोर श्रम (निषेध एवं विनियमन) अधिनियम 1986 के तहत जानकारी प्रदर्शित करने का निर्देश दिया गया।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

निरीक्षण के दौरान सोनू लाइन होटल, न्यू बस स्टैंड, बालूमाथ से तीन बाल मजदूरों को मुक्त कराया गया और होटल संचालक को कार्रवाई के लिए नोटिस जारी किया गया। निरीक्षण के दौरान श्रम अधीक्षक, जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी कार्यालय के रंजीत कुमार, विजय सिंह, बचपन बचाओ आंदोलन के रविशंकर, रामकुमार राम, पीएलबीएचआई और बालूमाथ की पुलिस अवर निरीक्षक शर्मिला नसर सहित बड़ी संख्या में पुलिस बल मौजूद थे।

उल्लेखनीय है कि राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग के निर्देशानुसार प्रत्येक जिले में 20 नवंबर 2023 से 10 दिसंबर 2023 तक बाल एवं कम उम्र के श्रमिकों का बचाव एवं पुनर्वास अभियान चलाया जा रहा है, जिसके आलोक में यह कार्रवाई की गयी।

श्रम अधीक्षक ने कहा कि लातेहार जिले में किसी भी दुकान या प्रतिष्ठान में बाल श्रमिकों से काम कराने का कोई प्रावधान नहीं है। यदि किसी भी प्रकार से कोई भी बाल श्रमिक कार्य करते हुए पाया गया तो संबंधित संचालक के विरुद्ध कड़ी कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

Balumath Latehar Latest News