Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

झामुमो ने बाबूलाल मरांडी पर जमकर साधा निशाना, कहा- रांची शहर में हुई जमीन हेराफेरी की भी जांच करे ED

रांची : झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के प्रवक्ता सुप्रियो भट्टाचार्य ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष बाबूलाल मरांडी पर जमकर निशाना साधा है। उन्होंने कहा कि संथाल परगना प्राइवेट बिल्डर्स लिमिटेड हरमू हाउसिंग सोसाइटी में रजिस्टर्ड है। तीन लोग के नाम से है। रमिया मरांडी, लालिमा तिवारी कौन है? यह वही व्यक्ति है जिनके पीछे बाबूलाल मरांडी का काला पैसा लगा हुआ है। लालिमा तिवारी सुनील तिवारी की धर्म पत्नी है। संथाल परगना में जो जमीन खरीदी गयी है। वह इसी कंपनी के नाम से रजिस्टर्ड है। भट्टाचार्य शुक्रवार को पार्टी कार्यालय में संवाददाता सम्मेलन में बोल रहे थे।

उन्होंने कहा कि बाबूलाल मरांडी प्रदेश भर में घूम घूम कर जो प्रचार प्रसार कर रहे हैं। रांची शहर में ही कई जमीनों की हेराफेरी की गयी है। इस मामले पर भी ईडी को संज्ञान लेना चाहिए। संथाल परगना प्राइवेट बिल्डर्स लिमिटेड की जांच किया जाना चाहिए। ईडी को बताना चाहिए कि इसका स्वामित्व किनका है।

उन्होंने ईडी पर भी निशाना साधते हुए कहा कि मंत्री रामेश्वर उरांव के आवास पर ईडी कैसे चली गयी। आपको पूछना ही था तो उनके बेटे को बुलाकर पूछ सकते थे। वह मंत्री हैं, आईपीएस अधिकारी रह चुके हैं उन्होंने कहा कि डुमरी विधानसभा उपचुनाव में एक अलग माहौल बनाया जा रहा है।