Breaking :
||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 28 फरवरी को आयेंगी रांची, सुरक्षा के रहेंगे कड़े इंतजाम||झारखंड: अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर युवती से किया दुष्कर्म, धर्म परिवर्तन कराकर जबरन करा दी शादी||लातेहार: बालूमाथ में लोडेड देशी पिस्टल के साथ दो युवक गिरफ्तार, कार जब्त||पीएम मोदी ने समुद्र में लगायी डुबकी, जलमग्न कृष्ण की नगरी द्वारका को देखा||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल
Monday, February 26, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरपलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ में आयुष्मान मेला के नाम पर खानापूर्ति, एमबीबीएस डॉक्टर रहे गायब

Balumath Latehar Latest News

लातेहार : बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में आयुष्मान मेला का आयोजन किया गया। मेले में स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा विभिन्न स्टॉल लगाये गये थे। जिस पर कुल 485 ग्रामीणों की चिकित्सकों द्वारा जांच की गयी तथा दवाइयां दी गयीं। सामान्य ग्रामीणों में 383 लोगों के स्वास्थ्य की जांच की गयी। जबकि आयुष चिकित्सा के माध्यम से 102 ग्रामीणों के स्वास्थ्य की जांच की गयी। जिसमें लैब टेस्ट, एनसीडी 107, बाल स्वास्थ्य, मैटेरियल हेल्थ, कुष्ठ रोग, मलेरिया 45, टीवी जैसे मरीजों की जांच की गयी और उचित परामर्श दिया गया और दवाएं भी मुफ्त दी गयीं।

बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र परिसर में आयोजित आयुष्मान मेला में 70 ग्रामीणों को आयुष्मान कार्ड बनाकर दिया गया और उन्हें आयुष्मान कार्ड से मिलने वाली सुविधाओं के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी। मौके पर दंत विशेषज्ञ डॉ. अलीशा टोप्पो ने 383 ग्रामीणों की स्वास्थ्य जांच की। जबकि आयुष चिकित्सक सुरेंद्र कुमार ने 107 मरीजों की जांच कर दवा दी।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस आयुष्मान मेले में सबसे खास बात यह रही कि इस मेले में एमबीबीएस डॉक्टर गायब दिखे और कुल मिलाकर इस आयुष्मान मेले की जिम्मेदारी दंत चिकित्सक डॉ अलीशा टोप्पो और आयुष डॉक्टर सुरेंद्र कुमार पर निर्भर थी। उनके द्वारा 485 ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण कैसे किया गया? समझा जा सकता है कि दो डॉक्टरों ने महज 5 घंटे में 485 ग्रामीणों के स्वास्थ्य की जांच कैसे की होगी। जबकि बालूमाथ सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में 4 एमबीबीएस डॉक्टर समेत पांच अन्य आयुष डॉक्टर हैं। अगर यह कहा जाए कि बालूमाथ में आयोजित आयुष्मान मेला के नाम पर खानापूर्ति की गयी है तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी।

वहीं ग्रामीण क्षेत्र से आए कई ग्रामीणों ने बताया कि वे बालूमाथ स्वास्थ्य मेले में इस उम्मीद से आते हैं कि इस मेले में उन्हें अच्छी स्वास्थ्य सुविधाएं के साथ-साथ इलाज भी मिलेगा, लेकिन उन्हें भी निराशा ही हाथ लगती है। वहीं दूसरी ओर ग्रामीण क्षेत्रों में प्रचार-प्रसार कर ग्रामीणों को स्वास्थ्य केंद्र पर आयोजित स्वास्थ्य मेले में भाग लेने के लिए प्रेरित करने वाली सामुदायिक स्वास्थ्य सहिया दीदी को भी काफी असुविधा का सामना करना पड़ा, यहां तक कि नाश्ता-पानी भी नहीं दिया गया। प्रबंधन द्वारा उसे. वहीं अस्पताल में काम करने वाले कर्मियों के लिए यह व्यवस्था उपलब्ध करायी गयी थी, जिससे स्वास्थ्य सहिया अस्पताल प्रबंधन से नाखुश थीं और कहा कि ऐसे में हम खाली पेट पूरे दिन कैसे काम कर पायेंगे।

मौके पर डॉ सुरेंद्र कुमार, डॉ अलीशा टोप्पो के साथ केंद्र के स्वास्थ्य कर्मी राजीव रंजन,आबिद अख्तर, संदीप कुमार, एमपीडब्ल्यू अनिल कुमार, मिथिलेश कुमार, दीपांशु कुमार, गुलाम कुरैसी, संतोष कुमार, मो मजहर, दीपक कुमार, समिना प्रवीण, सीएचओ अनु किरण, सेलीना एक्का सहित कई स्वास्थ्य कर्मीयों ने उपस्थित रहकर सक्रिय भूमिका निभायी।

Balumath Latehar Latest News