Breaking :
||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल||पलामू: पिछले 13 माह में सड़क दुर्घटना में 225 लोगों की मौत पर उपायुक्त ने जतायी चिंता||सदन की कार्यवाही सोमवार सुबह 11 बजे तक के लिए स्थगित||JSSC परीक्षा में गड़बड़ी मामले की CBI जांच कराने की मांग को लेकर विधानसभा गेट पर भाजपा विधायकों का प्रदर्शन||लातेहार: 10 लाख के इनामी JJMP जोनल कमांडर मनोहर और एरिया कमांडर दीपक ने किया सरेंडर||युवक ने थाने की हाजत में लगायी फां*सी, परिजनों ने लगाया हत्या का आरोप
Sunday, February 25, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरलातेहार

लातेहार: 2 लाख का इनामी JJMP सब जोनल कमांडर ने किया आत्मसमर्पण, साथियों को दिया संदेश

राजीव मिश्रा/लातेहार

लातेहार : प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन जेजेएमपी का सब जोनल कमांडर संजय प्रजापति ने शनिवार को लातेहार पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण कर दिया। आत्मसमर्पण करने पर पलामू प्रमंडल के डीआईजी राजकुमार लकड़ा लातेहार एसपी अंजनी अंजन और सीआरपीएफ 214 बटालियन के कमांडेंट ऋषि राज सहाय ने सब जोनल कमांडर संजय प्रजापति को बुके देकर सम्मानित किया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार संजय प्रजापति जिले के छिपादोहर थाना क्षेत्र अंतर्गत नावाडीह गांव का रहने वाला है। वर्ष 2013 से वह उग्रवादी संगठन जेजेएमपी से जुड़कर घटनाओं को अंजाम देता था। इस दौरान उस पर छिपादोहर थाना क्षेत्र में दो उग्रवादी घटनाओं का प्राथमिकी भी दर्ज है।

लातेहार की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इसी बीच झारखंड सरकार के आत्मसमर्पण एवं पुनर्वास नीति नई दिशा से प्रभावित होकर उसने आत्मसमर्पण करने की योजना बनाई।

शनिवार को उसने डीआईजी राजकुमार लकड़ा और एसपी अंजनी अंजन के समक्ष उसने आत्मसमर्पण कर दिया।

पलामू की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

मौके पर डीआईजी ने कहा कि सरकार की नई दिशा के तहत प्रभावित होकर संजय प्रजापति ने आत्मसमर्पण कर मुख्यधारा में लौटने का कार्य किया है। डीआईजी ने कहा कि नक्सली आत्मसमर्पण करें और सरकार के इस महत्वकांक्षी योजना का लाभ उठाएं।

वहीं एसपी अंजनी अंजन ने भी अन्य नक्सलियों को संदेश देते हुए कहा है कि सरकार के इस महत्वकांक्षी नई दिशा कार्यक्रम का लाभ लेकर उग्रवाद जैसी घिनौने कार्य को छोड़े और मुख्यधारा में लौट कर देश के विकास में योगदान दें।

झारखण्ड की ताज़ा ख़बरों के लिए यहाँ क्लिक करें

वही आत्मसमर्पण करने वाले संजय प्रजापति ने कहा कि सरकार के नई दिशा कार्यक्रम से प्रभावित होकर ही उसने आत्मसमर्पण किया है। उसने कहा कि उग्रवाद एक ऐसा रास्ता है जहां हमेशा जिंदगी खतरे और बेचैनी में कटती है। उन्होंने कहा कि अपने सभी साथियों से वह अपील करना चाहते हैं कि उग्रवाद जैसे घिनौने कार्य को छोड़कर मुख्यधारा में लौटे।

कार्यक्रम में लातेहार डीएसपी संतोष कुमार मिश्र समेत अन्य अधिकारी व सब जोनल कमांडर का परिवार भी उपस्थित था।