Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरउत्तरी छोटानागपुरझारखंड

गिरिडीह में गोवंश की हत्या के बाद दो समुदायों में तनाव, पुलिस कर रही कैंप

गिरिडीह : जिले के डुमरी थाना क्षेत्र के बरगी गांव में गोवंश की हत्या के बाद गुरुवार की सुबह से ही दो समुदायों के बीच तनाव व्याप्त है। मौके पर एसडीपीओ सुमित प्रसाद और थाना पुलिस पहुंच कर जांच कर रही है। पुलिस ने इलाके में कैंप कर दोनों समुदाय के लोगों से शांति बनाये रखने की अपील की है।

बताया गया कि डुमरी थाना क्षेत्र के बरगी गांव निवासी अजय जयसवाल घर के पीछे गोवंश बांध रखे थे। बुधवार दोपहर गाय ने एक बच्चे को जन्म दिया। कुछ देर बाद गांव के हसनेन अंसारी ने बछड़े को खोला और ले गये। उसने शमसुद्दीन अंसारी और खुर्शीद अंसारी समेत कुछ अन्य लोगों के साथ मिलकर बछड़े को काट लिया और प्रतिबंधित मांस को गांव के ही कुछ लोगों के बीच बांट दिया। साथ ही बचे हुए मांस को एक खेत के नीचे दबा दिया।

जब इसकी जानकारी अजय को हुई तो उसने घटना की जानकारी अन्य ग्रामीणों को दी। इसके बाद ही दोनों समुदायों के बीच कुछ समय के लिए तनाव बढ़ गया। इस बीच अजय ने भी डुमरी थाने में लिखित आवेदन देकर आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई की मांग की। तनाव बढ़ता देख एसडीपीओ और थाना प्रभारी ने गांव पहुंचकर मामले को शांत कराया और दोषियों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया।