Breaking :
||रांची: उड़ान IAS अकादमी के डायरेक्टर अरुण अग्रवाल पर जानलेवा हमला, लातेहार अम्बाकोठी के हैं निवासी||सीएम हेमंत सोरेन की नहीं होगी गिरफ्तारी, ईडी के पास कोई पुख्ता सबूत नहीं||झारखंड से कोरोना की विदाई, सभी जिले कोरोना मुक्त घोषित||झारखंड: प्रमाण पत्र सत्यापन नहीं कराने वाले सहायक अध्यापक होंगे कार्यमुक्त||झारखंड में Suo-Moto Online Mutation की ऐतिहासिक शुरुआत, अब जमीन रजिस्ट्री के बाद म्यूटेशन के लिए नहीं देना पड़ेगा आवेदन||झारखंड प्रशासनिक सेवा के 14 अधिकारियों को मिली अपर सचिव के पद पर पदोन्नति||लातेहार: कब्र से निकाले गये शव की गुत्थी महुआडांड़ पुलिस ने सुलझाया, सास, ससुर व साले ने पीट-पीटकर की थी हत्या||लातेहार: आदिवासी मुख्यमंत्री के कार्यकाल में आदिवासी की मौत के बाद नहीं मिली एंबुलेंस, ठेले पर ले गया शव||पलामू में भाकपा माओवादी के सब जोनल कमांडर नारायण यादव गिरफ्तार||चतरा में भाकपा माओवादी के एरिया कमांडर ने किया पुलिस के सामने सरेंडर

आरोप : भाजपा के संपर्क में है हेमंत सरकार के दो विधायक, सरकार गिराने की हो रही साजिश

झारखंड सरकार गिराने की साजिश

झामुमो के अंदर सियासत गरमा गई है। पार्टी विधायक सीता सोरेन और लोबिन हेम्ब्रम पर बीजेपी के संपर्क में रहने का आरोप लगा है। दोनों विधायकों की शिकायत पार्टी के शीर्ष नेतृत्व से हुई है। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन और पार्टी अध्यक्ष शिबू सोरेन को दोनों विधायकों की गतिविधियों से अवगत करा दिया गया है। पार्टी के एक दर्जन से अधिक विधायकों ने इसकी शिकायत की है.

शिकायत करने वाले विधायकों का कहना है कि ये दोनों विधायक लगातार संगठन विरोधी गतिविधियों में शामिल रहे हैं। साथ ही इनकी भूमिका संदिग्ध रही है। ऐसा मुमकिन है कि पार्टी नेतृत्व इन विधायकों के खिलाफ कार्रवाई कर सकता है।

मंत्री पद की दी जा रही है लालच

उन पर यह भी आरोप है कि वे दोनों दूसरे विधायकों को पद और पैसे का लालच दे रहे हैं। इसमें कांग्रेस के कुछ विधायक भी शामिल हैं। विधायकों को सही समय का इंतजार करने को कहा गया है।

क्या कहना है सीता सोरेन का

मैंने कोई पार्टी विरोधी काम नहीं किया है। सरकार गिराने की साजिश का आरोप झूठा है। जो सही है वह मैं निश्चित रूप से कहूँगी । जनता सब देख रही है। अगर गलत है तो मैं आवाज उठाती हूं। अंदर ही अंदर सब दुखी हैं। हम अपना काम कर रहे हैं। जो लोग सरकार गिराने की कोशिश में हैं वही मुझ पर आरोप लगा रहे हैं।

क्या कहना है लोबिन हेम्ब्रम का

मैं सरकार और संगठन के खिलाफ नहीं हूं। मैं सिर्फ स्थानीय नीति को लागू करने की बात कर रहा हूं। मैं सरकार द्वारा किए गए वादे को लागू करने की बात कर रहा हूं।1932 के खतियान को मैं लागू करने की बात कर रहा हूं। इसमें पार्टी और सरकार का विरोध कहां से आ गया ? आप अपनी सरकार में नहीं बोलेंगे तो कहां बोलेंगे? मैं बीजेपी के संपर्क में नहीं हूं। मैं झारखंड की जनता के संपर्क में हूं।

झारखंड सरकार गिराने साजिश