Breaking :
||पलामू: तेज रफ़्तार कार और बाइक की टक्कर में युवक की मौत||लातेहार: बारियातू में पेड़ से लटका मिला महिला का शव, जांच में जुटी पुलिस||गुमला में TSPC के चार उग्रवादी गिरफ्तार, हथियार और जिंदा कारतूस समेत अन्य सामान बरामद||चतरा: नक्सलियों की बड़ी साजिश नाकाम, दो सिलेंडर बम बरामद||मनी लॉन्ड्रिंग मामले में निलंबित मुख्य अभियंता वीरेंद्र राम की जमानत याचिका खारिज, पत्नी व पिता को भी नहीं मिली राहत||नहाय खाय के साथ सूर्योपासना का चार दिवसीय चैती छठ महापर्व शुरू||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में अनुपस्थित 56 मतदान कर्मियों को मिला आखिरी मौका, उपस्थित नहीं हुए तो होगी कार्रवाई||झारखंड में धूमधाम से मनाया गया प्रकृति का पर्व सरहुल, निकाली गयी भव्य शोभायात्रा||झारखंड: सुरक्षाबलों के दबिश का परिणाम, दो महिला नक्सली समेत 15 माओवादियों ने एक साथ किया सरेंडर||पलामू: प्रेम प्रसंग में युवक की हत्या, शव फंदे से लटकाया!
Friday, April 12, 2024
झारखंड

बजट सत्र के समापन पर मुख्यमंत्री ने सदन में कहा नेतरहाट की तर्ज पर खोले जा रहे हैं तीन और स्कूल, पुलिस कर्मियों को मिलेगा क्षतिपूर्ति अवकाश

रांची : झारखंड विधानसभा का बजट सत्र शुक्रवार को संपन्न हो गया। इस मौके पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार स्कॉलरशिप को फिर से 3 गुना बढ़ाने जा रही है। शायद इसे और भी बढ़ा दें। हेमंत ने कहा कि उनकी सरकार ने ऐतिहासिक फैसला लेकर पारा शिक्षकों की समस्या का समाधान किया है। 65 हजार पारा शिक्षकों को अब सहायक अध्यापक के रूप में जाना जाएगा। शिक्षा के क्षेत्र में व्यापक सुधार किए गए हैं। 250 करोड़ की लागत से आधुनिक स्कूल खोले जा रहे हैं। नेतरहाट की तर्ज पर 3 स्कूल खोले जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि सरकार कल्याण विभाग के छात्रावास में छात्रों के लिए भोजन उपलब्ध कराएगी। रसोइयों को भी रखा जाएगा और गार्ड भी तैनात किए जाएंगे। वहीं, पुलिस कर्मियों को क्षतिपूर्ति अवकाश भी मिलेगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमें यहीं मरना है और जीना है। सरकार रहे न रहे, हमें यहीं रहना है। झारखंड की भावना के अनुरूप काम करेंगे। मौत के बाद विपक्ष को यूपी, बिहार, छत्तीसगढ़ जाना है। मंहगाई के चलते सभी क्षेत्रों में अराजकता बढ़ेगी।

पिछली सरकार राज्य के लिए नहीं बल्कि व्यक्ति के लिए काम कर रही थी। 41 विधायकों के लिए काम किया। एक कहावत है कि भूत से बचने के लिए सरसों का इस्तेमाल किया जाता है, जब सरसों में ही भूत घुस जाए तो वह कैसे भागेगा।


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *