Breaking :
||बंद औद्योगिक इकाइयों को पुनर्जीवित करेगी राज्य सरकार : मुख्यमंत्री||आर्थिक तंगी के कारण कोई भी छात्र उच्च एवं तकनीकी शिक्षा से न रहे वंचित: मुख्यमंत्री||झारखंड में मानसून की आहट, भारी बारिश का अलर्ट जारी||बड़गाईं जमीन घोटाले में ED की बड़ी कार्रवाई, जमीन कारोबारी के ठिकाने से एक करोड़ कैश और गोलियां बरामद||पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के सेक्शन अधिकारी समेत दो रिश्वत लेते गिरफ्तार||सतबरवा में कपड़ा व्यवसायी के बेटे और बेटी के अपहरण का प्रयास विफल, लातेहार की ओर से आये थे अपहरणकर्ता||लातेहार: एनडीपीएस एक्ट के दोषी को 15 वर्ष का कठोर कारावास और 1.5 लाख रुपये का जुर्माना||लातेहार सिविल कोर्ट में आपसी सहमति से प्रेमी युगल ने रचायी शादी||लातेहार: किड्जी प्री स्कूल के बच्चों ने अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर किया योगाभ्यास||किसानों की समृद्धि से राज्य की अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती : मुख्यमंत्री
Saturday, June 22, 2024
बरवाडीहलातेहार

शिक्षा मंत्री व उपायुक्त से बीआरसी भवन का आधार केंद्र खोलने की मांग, छात्रों व अभिभावकों को हो रही परेशानी

Barwadih news DC BRC Aadhaar

शशि शेखर/बरवाडीह

लातेहार : निजी स्कूलों में बच्चों की पढ़ाई के लिए नामांकन शुरू हो गया है। साथ ही सरकारी स्कूल में परीक्षा के बाद नामांकन प्रक्रिया शुरू हो जाएगी। लेकिन अभिभावक बच्चों के आधार कार्ड को लेकर काफी परेशान हैं।

बरवाडीह प्रखंड मुख्यालय में संचालित एकमात्र आधार केंद्र कभी ऑपरेटर की कमी तो कभी तकनीकी कारण से बंद रहता है। वहीं राज्य सरकार के निर्देश पर शिक्षा विभाग के द्वारा बीआरसी भवन में खोला गया आधार केंद्र लंबे समय से बंद पड़ा है। जिस कारण आधार बनवाने और सुधारने में खासी मानसिक परेशानी बच्चे और उनके अभिभावकों को झेलना पड़ रहा है।

कई अभिभावक आधार बनवाने को लेकर दूसरे शहरों और जिला मुख्यालय का चक्कर काट रहे हैं। जिसके लिए उन्हें अच्छी खासी कीमत चुकानी पड़ रही। जबकि जिला शिक्षा अधीक्षक के द्वारा बीते दो माह पूर्व प्रखंड में आयोजित बैठक के दौरान बीआरसी के आधार केंद्र को खोलने का निर्देश भी दिया गया था।

इस मामले को लेकर प्रखंड की महिला समाजसेवी संतोषी शेखर के द्वारा राज्य के शिक्षा मंत्री के साथ-साथ जिले के उपायुक्त से प्रखंड मुख्यालय के बीआरसी भवन में बंद पड़े आधार केंद्र को जल्द से जल्द शुरू कराने की मांग की है।

साथ ही प्रखंड परिसर में संचालित आधार केंद्र के स्थाई ऑपरेटर देने की भी मांग की है। ताकि ऑपरेटर की समस्या के कारण विभिन्न पंचायतों से आने वाले ग्रामीणों और अभिभावकों को परेशानी से निजात मिले।

ज्ञात है कि प्रखंड के सुदूरवर्ती इलाकों से आधार बनवाने को लेकर रोजाना ग्रामीण आते हैं जिसके लिए ग्रामीणों को अच्छा खासा किराया भी आने जाने में खर्च करना पड़ता है। लेकिन आधार केंद्र के बंद रहने के कारण उन्हें वापस निराश होकर लौटना पड़ रहा है।

Barwadih news DC BRC Aadhaar


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *