Breaking :
||झारखंड में भीषण गर्मी से मिलेगी राहत, 20 जून तक मानसून करेगा प्रवेश||पलामू: बालिका गृह में दुष्कर्म पीड़िता की बहन की मौत, मजिस्ट्रेट की मौजूदगी में हुआ पोस्टमार्टम||सतबरवा प्रखंड के रैयतों ने सांसद से की मुलाकात, उचित मुआवजा दिलाने की मांग||पलामू में तीन अलग-अलग सड़क हादसों में तीन की मौत, नेतरहाट घूमने जा रहा एक पर्यटक भी शामिल||केंद्रीय मंत्री शिवराज व असम के मुख्यमंत्री हिमंता झारखंड विधान सभा चुनाव में भाजपा का करेंगे बेड़ापार||झारखंड में पांच नक्सली ढेर, एक महिला नक्सली समेत दो गिरफ्तार, हथियार बरामद||अब स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग स्कूली बच्चों को नशीले पदार्थो के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में करेगा जागरूक||लातेहार: बालूमाथ में अनियंत्रित बाइक दुर्घटनाग्रस्त, दो युवक घायल, सांसद ने पहुंचाया अस्पताल, दोनों रिम्स रेफर||15 ऐसे महत्वपूर्ण कानून और कानूनी अधिकार जो हर भारतीय को जरूर जानने चाहिए||लातेहार में तेज रफ्तार बोलेरो ने घर में सो रहे पांच लोगों को रौंदा, एक की मौत, चार रिम्स रेफर
Tuesday, June 18, 2024
पलामू प्रमंडलबालूमाथलातेहार

लातेहार: बालूमाथ में जंगली हाथियों ने जमकर मचाया उत्पात, फसलों को रौंदा, मवेशी को कुचला

शशि भूषण गुप्ता/बालूमाथ

लातेहार : बालूमाथ प्रखंड के झाबर पंचायत अंतर्गत डेंबू गांव में बीती रात जंगली हाथियों ने जमकर उत्पात मचाया, जहां करीब डेढ़ दर्जन जंगली हाथियों ने करीब 15 एकड़ जमीन में लगी धान की फसल को रौंद डाला, वहीं 5 एकड़ जमीन में लगी टमाटर की फसल को नष्ट कर दिया। जिससे किसानों को लाखों रुपये का नुकसान हुआ। इस दौरान उसी गांव के एक किसान की गाय की भी कुचलकर मार डाला।

प्राप्त जानकारी के अनुसार जंगली हाथियों ने डेंबू गांव निवासी केदार यादव, धनेश्वर यादव, डेगन यादव, कोली यादव, सुरेंद्र यादव, रेवा लाल यादव सहित दर्जनों किसानों की धान की खेती को पूरी तरह से नष्ट कर दिया और 5 एकड़ टमाटर के पौधे सहित पूरे खेत को नष्ट कर दिय। वहीं कटी हुई फसल भी खा ली।

घटना की सूचना मिलते ही भाजपा मंडल अध्यक्ष लक्ष्मण कुशवाहा, एससी मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष अमित कुमार झाबर, मुखिया पति बासुदेव उराँव घटना स्थल पर पहुंच कर घटना की जानकारी ली और दुख प्रकट करते हुए कहा कि वन विभाग एकीकृत बालूमाथ थाना क्षेत्र से हेमंत सोरेन की सरकार हाथियों को भगाने में असफल रही है। जिसके कारण इस क्षेत्र के लोगों को फसलों के साथ-साथ जान-माल का भी नुकसान हो रहा है, जो सरकार की विफलता को दर्शाता है।

भाजपा मंडल अध्यक्ष ने वन विभाग के अधिकारी से तत्काल क्षति का आकलन कर प्रभावित किसानों को तत्काल मुआवजा देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि रात में हाथियों के आने के बाद वन कर्मियों को सूचना देने के बाद भी अगले दिन खबर नहीं ली गयी। कोई भी वन कर्मी नजर नहीं आया। इस सरकार में वन विभाग कान में तेल डालकर सोया हुआ है। वन विभाग का गठन सिर्फ घटना के बाद मुआवजा देने के लिए नहीं किया गया है। विभाग पीड़ित परिवार एवं सभी किसानों को यथाशीघ्र मुआवजा प्रदान करें।

मौके पर बूथ अध्यक्ष गजेंद्र, हिमांशु, रूपेश यादव, बिनोद यादव, बिनोद, हरिनंदन राम, मुकेश भुइयां, रामप्रसाद यादव, संजय भुइयां, लालधारी यादव, कृष्णा यादव, गणेश यादव समेत दर्जनों किसान मौजूद रहे।

Balumath Latehar Latest News