Breaking :
||पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की जमानत याचिका पर कल होगी सुनवाई||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, शादी समारोह से लौट रही कार पेड़ से टकरायी, पति की मौत, पत्नी और पोते की हालत नाजुक||लातेहार: सिरफिरे युवक ने दो महिलाओं समेत पिता को कुल्हाड़ी से काट डाला, गिरफ्तार||झारखंड एकेडमिक काउंसिल कल जारी करेगा मैट्रिक और इंटर का रिजल्ट||लातेहार: चुनाव प्रशिक्षण में बिना सूचना के अनुपस्थित रहे SBI सहायक पर FIR दर्ज||ED ने जमीन घोटाला मामले में आरोपियों के पास से बरामद किये 1 करोड़ 25 लाख रुपये||झारखंड में हीट वेब को लेकर इन जिलों में येलो अलर्ट जारी, पारा 43 डिग्री के पार||सतबरवा सड़क हादसे में मारे गये दोनों युवकों की हुई पहचान, यात्री बस की चपेट में आने से हुई थी मौत||झारखंड: रामनवमी जुलूस रोके जाने से लोगों में आक्रोश, आगजनी, पुलिस की गाड़ियों में तोड़फोड़, लाठीचार्ज||लातेहार में भीषण सड़क हादसा, दो बाइकों की टक्कर में तीन युवकों की मौत, महिला समेत चार घायल, दो की हालत नाजुक
Tuesday, April 23, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरगारूपलामू प्रमंडललातेहार

लातेहार: पलामू टाइगर रिजर्व से चार देशी बन्दूक के साथ पारा शिक्षक समेत चार तस्कर गिरफ्तार, कीमती लकड़ियां जब्त

लातेहार : वन विभाग की टीम ने पलामू टाइगर रिजर्व अंतर्गत गारू पश्चिमी वन प्रक्षेत्र के सुरकुमी गांव में कई जगहों पर छापेमारी कर करीब 10 लाख रुपये मूल्य का कीमती चिरान पटरा जब्त किया है। गारू पश्चिमी वन क्षेत्र के सुरकुमी जंगलों में वन माफियाओं द्वारा लगातार सागवान के पेड़ों को काटकर बेचा जा रहा था। इसी सूचना के आधार पर पश्चिमी वन क्षेत्र के रेंजर तरूण कुमार सिंह ने एक टीम गठित कर सुरकुमी गांव में छापेमारी की।

लातेहार, पलामू और गढ़वा की ताज़ा ख़बरों के लिए व्हाट्सप्प ग्रुप ज्वाइन करें

इस दौरान किसुन ब्रिजिया, बालेश्वर लोहरा, गारू निवासी रमेश कुमार गुप्ता और सुरकुमी गांव के गौतम कुमार को करीब 10 लाख रुपये की लकड़ी और चार देसी बंदूक (भरथुआ) के साथ गिरफ्तार कर वन अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर लिया गया। इसके बाद सभी आरोपियों को बुधवार को न्यायिक हिरासत में लातेहार जेल भेज दिया गया।

इस संबंध में रेंजर ने बताया कि गारू निवासी रमेश कुमार गुप्ता और गौतम कुमार लंबे समय से जंगल से सागवान, शिसम और बीआ की कीमती लकड़ी काट कर बाहर बेचते थे। इसके अलावा, वे सुरकुमी गांव के भोले-भाले आदिवासी युवाओं को पैसे का लालच देकर कम कीमत पर लकड़ी खरीदकर ऊंचे दाम पर बेचते थे।

गौरतलब है कि रमेश कुमार गुप्ता सुरकुमी विद्यालय में पारा शिक्षक हैं। शिक्षक की आड़ में वे बहुमूल्य वृक्षों को काटकर वन संपदा को भी नुकसान पहुंचा रहे थे।

मौके पर वनपाल प्रेमजीत तिवारी, अमृत कुमार, वनरक्षी अरुण कुमार, विशाल कुमार सिंह, पंकज पाठक, बिपिन कुमार समेत काफी संख्या में वन कर्मी मौजूद थे।

Palamu Tiger Reserve News