Breaking :
||मोदी 3.0: मोदी सरकार में मंत्रियों के बीच हुआ विभागों का बंटवारा, देखें किसे मिला कौन सा मंत्रालय||गढ़वा: प्रेमी ने गला रेतकर की प्रेमिका की हत्या, शादी का बना रही थी दबाव, बिन बयाही बनी थी मां||मैक्लुस्कीगंज में फायरिंग व आगजनी मामले में पांच गिरफ्तार, ऑनलाइन जुआ खेलाने वाले गिरोह का भंडाफोड़, सात गिरफ्तार||पलामू में शैक्षणिक संस्थानों के 100 मीटर के दायरे में 60 दिनों के लिए निषेधाज्ञा लागू, जानिये वजह||पलामू में युवक की गोली मारकर हत्या, पुलिस जांच तेज||पलामू: संदिग्ध हालत में स्कूल में फंदे से लटका मिला प्रधानाध्यापक का शव, हत्या की आशंका||लातेहार: तालाब में डूबे बच्चे का 24 घंटे बाद भी नहीं मिला शव, तलाश के लिए पहुंची NDRF की टीम||मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने आलमगीर आलम से लिए सभी विभाग वापस||पलामू: कोयला से भरा ट्रक और बीड़ी पत्ता लदा ऑटो जब्त, पांच गिरफ्तार, दो लातेहार के निवासी||लातेहार: नहाने के दौरान तालाब में डूबने से दस वर्षीय बच्चे की मौत, शव की तलाश में जुटे ग्रामीण
Thursday, June 13, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

धनबाद जेल में अमन सिंह की हत्या मामले में हाईकोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, आईजी को कोर्ट में पेश होने का निर्देश

रांची : झारखंड हाई कोर्ट ने सोमवार को धनबाद जेल में गैंगस्टर अमन सिंह की हत्या के मामले पर स्वत: संज्ञान लिया। हाई कोर्ट ने इस मामले में जेल आईजी को मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कोर्ट में पेश होने का निर्देश दिया है।

कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई मंगलवार को सूचीबद्ध करने का निर्देश दिया है। साथ ही राज्य सरकार की ओर से पेश अधिवक्ता को सरकार से निर्देश लेने का निर्देश दिया है। धनबाद जेल में हत्या से जुड़ी खबर पर कोर्ट ने संज्ञान लिया है। इस मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस संजय कुमार मिश्रा की बेंच करेगी। सोमवार को राज्य सरकार की ओर से वकील पीयूष चित्रेश ने कोर्ट को बताया कि सरकार ने मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है और वरिष्ठ अधिकारियों की एक टीम मौके पर जाकर जांच कर रही है।

धनबाद जेल में बंद शूटर अमन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। वह पूर्व मेयर नीरज सिंह हत्याकांड में जेल में बंद था। सूचना मिलते ही धनबाद डीसी, एसएसपी समेत तमाम वरीय अधिकारी जेल पहुंचे और जांच शुरू की। जेल के अंदर शूटर अमन सिंह को तीन गोलियां मारी गयीं।

गौरतलब है कि जिले के व्यवसायियों, उद्योगपतियों व अन्य व्यवसायियों से रंगदारी मांग कर दहशत फैलाने के आरोपी अमन सिंह को सजा दिलाने में धनबाद पुलिस एक बार फिर विफल रही। धनबाद पुलिस एक बार फिर कोर्ट में अमन सिंह के खिलाफ आरोप साबित करने में सफल नहीं रही, जिसके कारण कोर्ट ने उसे बरी कर दिया। इससे पहले भी कई मामलों में पुलिस अमन सिंह के खिलाफ कोर्ट में कोई ठोस सबूत पेश नहीं कर सकी थी, जिसके कारण कई मामलों में अमन सिंह बरी हो गया था।