Breaking :
||राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू 28 फरवरी को आयेंगी रांची, सुरक्षा के रहेंगे कड़े इंतजाम||झारखंड: अश्लील वीडियो वायरल करने की धमकी देकर युवती से किया दुष्कर्म, धर्म परिवर्तन कराकर जबरन करा दी शादी||लातेहार: बालूमाथ में लोडेड देशी पिस्टल के साथ दो युवक गिरफ्तार, कार जब्त||पीएम मोदी ने समुद्र में लगायी डुबकी, जलमग्न कृष्ण की नगरी द्वारका को देखा||लातेहार: बारियातू में ऑटो चालक की गोली मारकर हत्या, विरोध में सड़क जाम||लातेहार जिले के विकास के लिए किसी के पास कोई रोडमैप नहीं, अधिकारी भी नहीं रहना चाहते यहां: सुदेश महतो||झारखंड में अधिकारियों के तबादले में चुनाव आयोग के निर्देशों का नहीं हुआ पालन, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने लिखा पत्र||पलामू: बाइक सवार अपराधियों ने व्यवसायी को मारी गोली, पत्नी ने गोतिया परिवार पर लगाया आरोप||पलामू: ट्रैक्टर की चपेट में आने से बाइक सवार इंटर के परीक्षार्थी की मौत||पलामू DAV के बच्चों की बस बिहार में पलटी, दर्जनों छात्र घायल
Monday, February 26, 2024
BIG BREAKING - बड़ी खबरझारखंडरांची

धनबाद जेल में अमन सिंह की हत्या मामले में हाईकोर्ट ने लिया स्वत: संज्ञान, आईजी को कोर्ट में पेश होने का निर्देश

रांची : झारखंड हाई कोर्ट ने सोमवार को धनबाद जेल में गैंगस्टर अमन सिंह की हत्या के मामले पर स्वत: संज्ञान लिया। हाई कोर्ट ने इस मामले में जेल आईजी को मंगलवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिये कोर्ट में पेश होने का निर्देश दिया है।

कोर्ट ने इस मामले की सुनवाई मंगलवार को सूचीबद्ध करने का निर्देश दिया है। साथ ही राज्य सरकार की ओर से पेश अधिवक्ता को सरकार से निर्देश लेने का निर्देश दिया है। धनबाद जेल में हत्या से जुड़ी खबर पर कोर्ट ने संज्ञान लिया है। इस मामले की सुनवाई चीफ जस्टिस संजय कुमार मिश्रा की बेंच करेगी। सोमवार को राज्य सरकार की ओर से वकील पीयूष चित्रेश ने कोर्ट को बताया कि सरकार ने मामले की जांच के लिए एसआईटी का गठन किया है और वरिष्ठ अधिकारियों की एक टीम मौके पर जाकर जांच कर रही है।

धनबाद जेल में बंद शूटर अमन सिंह की गोली मारकर हत्या कर दी गयी। वह पूर्व मेयर नीरज सिंह हत्याकांड में जेल में बंद था। सूचना मिलते ही धनबाद डीसी, एसएसपी समेत तमाम वरीय अधिकारी जेल पहुंचे और जांच शुरू की। जेल के अंदर शूटर अमन सिंह को तीन गोलियां मारी गयीं।

गौरतलब है कि जिले के व्यवसायियों, उद्योगपतियों व अन्य व्यवसायियों से रंगदारी मांग कर दहशत फैलाने के आरोपी अमन सिंह को सजा दिलाने में धनबाद पुलिस एक बार फिर विफल रही। धनबाद पुलिस एक बार फिर कोर्ट में अमन सिंह के खिलाफ आरोप साबित करने में सफल नहीं रही, जिसके कारण कोर्ट ने उसे बरी कर दिया। इससे पहले भी कई मामलों में पुलिस अमन सिंह के खिलाफ कोर्ट में कोई ठोस सबूत पेश नहीं कर सकी थी, जिसके कारण कई मामलों में अमन सिंह बरी हो गया था।